दिल्ली विधानसभा में LG पर बरसे सीएम केजरीवाल, बोले- "कुछ कर ही रहे होंगे, तभी तीन बार जीते"

सीएम केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने आरोप लगाया कि अच्छी खासी चल रही दिल्ली सरकार की योजना को अचानक 1 नवंबर से बंद कर दिया गया. यह योजना 8 साल तक चली, इसमे 3 विभाग विभाग शामिल थे. 8 साल तक यह तीनों विभाग शांतिपूर्वक काम करते रहे.

दिल्ली विधानसभा में LG पर बरसे सीएम केजरीवाल, बोले-

दिल्ली विधानसभा में एलजी पर बरसे अरविंद केजरीवाल.

नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने एक बार फिर से एलजी (CM Kejriwal Vs LG) पर निशाना साधा. विधानसभा में दिल्ली में बढ़े हुए पानी बिल मामले पर एलजी की चिट्ठी का जिक्र करते हुए सीएम केजरीवाल ने आरोप लगाया कि उनके पत्र की भाषा अच्छी नहीं थी. एलजी की चिट्ठी में कहा गया है कि अपने स्पीकर को बता देना. जिस पर केजरीवाल ने पूछा कि क्या एलजी को ये नहीं पता है कि स्पीकर मुख्यमंत्री के तहत नहीं आते. दिल्ली के सीएम ने कहा कि एलजी को इस तरह भी भाषा शोभा नहीं देती, सीएम केजरीवाल ने कहा कि एलजी कहते हैं कि दिल्ली सरकार ने कुछ नहीं किया. इस पर तंज कसते हुए उन्होंने ये भी कहा कि कुछ कर ही रहे होंगे, तभी हमने तीन बार चुनाव जीता है. 

ये भी पढ़ें-"आपके आने के बाद काम रुकने लगे..." : दिल्ली एलजी की चिट्ठी के जवाब में CM केजरीवाल

"दिल्ली सरकार ने सबसे ज्यादा CCTV लगाए"

महिला सुरक्षा पर सीएम केजरीवाल ने कहा कि साल 2015 में सत्ता में आते ही उनकी सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए कदम उठाने का वादा किया था. दिल्ली पुलिस उनके पास नहीं है, लेकिन फिर भी दिल्ली सरकार ने पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं. दिल्ली सरकार ने बसों में बस मार्शल की नियुक्ति की, इसका मकसद सिर्फ महिला सुरक्षा ही नहीं बल्कि दूसरे अपराध रोकना भी है. 

सीएम केजरीवाल ने कहा कि अपहरण की गई एक बच्ची को बस मार्शल ने पकड़वाया था. ऐसे ही कई उदाहरण हैं. उन्होंने कहा कि अच्छी खासी चल रही दिल्ली सरकार की इस योजना को अचानक 1 नवंबर से बंद कर दिया गया. यह योजना 8 साल चली, इसमे 3 विभाग ट्रांसपोर्ट, रेवेन्यू और वित्त विभाग शामिल थे. 8 साल तक यह तीनों विभाग शांतिपूर्वक काम करते रहे. 2023 के शुरू से इन तीनों विभाग के अफसर ने अचानक फ़ाइल पर लिखना शुरू कर दिया कि सिविल डिफेंस वॉलिंटियर्स का यह काम नहीं है. सीएम केजरीवाल ने विधानसभा में सवाल किया कि पहले सब ठीक था फिर अचानक क्या हो गया. 

"CCTV सिक्योरिटी पर LG ने कही ये बात"

सीएम केजरीवाल ने कहा कि योजना बंद नहीं करने के लिए लिखित में आदेश दिए गए, लेकिन सब अफसर LG से डरते हैं. दिल्ली के सीएम ने कहा कि जब उनको पता चला कि सिविल डिफेंस वॉलिंटियर को हटाया जा रहा है तो वह उपराज्यपाल से मिले.उन्होंने एलजी से कहा कि 250 करोड़ तो क्या, सुरक्षा पर इससे ज्यादा खर्च भी किया जाएगा.

सीएम केजरीवाल के मुताबिक, एलजी ने उनसे कहा, " हम सीसीटीवी कैमरे पर तो खर्च कर ही रहे हैं,  250 करोड रुपए एक्स्ट्रा बस मार्शल पर खर्च करने का क्या ही फायदा." एलजी ने कहा, " अगर सीसीटीवी से ही सुरक्षा करनी है तो उनके घर के बाहर भी तो सीसीटीवी लगे ही हुए हैं, बाकी सिक्योरिटी हटा दी जाएगी."

सीएम केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने योजना न बंद करने को लेकर एलजी को चिट्ठी भी लिखी. उन्होंने आरोप लगाया कि पहले एलजी ने योजना बंद की फिर बीजेपी नेताओं ने सिविल डिफेंस वॉलिंटियर्स के धरने में जाकर झूठे आंसू बहाने शुरू कर दिए. 

LG ने किया था सीएम केजरीवाल के आरोपों से इनकार

बता दें कि बढ़े हुए पानी के बिलों के एकमुश्त निस्तारण के मुद्दे पर दिल्ली के उप राज्यपाल वीके सक्सेना ने बुधवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को संबोधित ‘खुले पत्र' में कहा कि प्रस्तावित योजना को रोकने के आम आदमी पार्टी सरकार के आरोप ‘सफेद झूठ' हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल और आप सरकार के मंत्रियों आतिशी तथा सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया था कि उपराज्यपाल और भाजपा संबंधित अधिकारियों के माध्यम से योजना को अवरुद्ध कर रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

केजरीवाल ने उपराज्यपाल को जवाब में एक ‘खुला पत्र' लिखा और कहा कि वह उनके पत्र की भाषा से बहुत दुखी हैं.उन्होंने कहा, ‘‘हमारे जो भी मतभेद, राजनीतिक पृष्ठभूमि हों और हमारा नजरिया अलग हो, लेकिन एक संवैधानिक पदाधिकारी की ओर से दूसरे पदाधिकारी के लिए इस तरह की आक्रामक भाषा स्वीकार्य नहीं है.''