'यहां तक कि कुत्ता भी..' असदुद्दीन ओवैसी के औरंगजेब प्रेम पर बरसे BJP नेता देवेंद्र फडणवीस

बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर निशाना साधते हुए कहा कि ओवैसी औरंगजेब को उनकी कब्र पर श्रद्धांजलि देते हैं, इस बात से शर्म आनी चाहिए.

'यहां तक कि कुत्ता भी..' असदुद्दीन ओवैसी के औरंगजेब प्रेम पर बरसे BJP नेता देवेंद्र फडणवीस

असदुद्दीन ओवैसी पर बरसे देवेंद्र फडणवीस

मुंबई:

महाराष्ट्र में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कल महा विकास अघाड़ी सरकार की तुलना बाबरी जैसी संरचना से की. उन्होंने कहा कि वह तब तक आराम नहीं करेंगे जब तक कि वह इसे नीचे नहीं गिराते. फडणवीस ने कहा, "मैं तब तक चैन से बिल्कुल नहीं बैठूंगा, जब तक मैं आपकी सत्ता के बाबरी जैसे इस ढांचे को गिरा नहीं देता." देवेंद्र फडणवीस ने मुंबई में पार्टी की महासंकल्प सभा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अन्य कार्यकर्ताओं के साथ हनुमान चालीसा का जाप किया. 

इस दौरान फडणवीस ने कहा कि "हमने सिर्फ हनुमान चालीसा का जाप किया, क्या बालासाहेब ठाकरे ने कभी सोचा होगा कि उनके बेटे के शासनकाल में हनुमान चालीसा पढ़ना देशद्रोह होगा और औरंगजेब की कब्र पर जाना एक राजकीय शिष्टाचार?" फडणवीस ने उद्धव ठाकरे की रैली को "लाफ्टर शो" बताते हुए कहा, "शिवसेना ने कल एक रैली की थी, जिसे उन्होंने एक मास्टर सभा कहा, लेकिन जब हम उन्हें सुन रहे थे, तो यह एक लाफ्टर सभा की तरह थी ... कल कौरव सभा थी और आज पांडव सभा है.", 

एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर निशाना साधते हुए फडणवीस ने कहा, " ओवैसी औरंगजेब को उसकी कब्र पर श्रद्धांजलि देते हैं और आप इसे देखते रहते हैं, आपको इसके लिए शर्म आनी चाहिए. सुनो, औरंगजेब की पहचान पर कुत्ता भी पेशाब नहीं करेगा. हिंदुस्तान में सिर्फ भगवा राज करेगा.' हनुमान चालीसा और अजान को लेकर हुए विवाद ने राज्य में राजनीतिक माहौल को गर्मा दिया है. हाल ही में, नवनीत राणा और रवि राणा को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया था और उन पर केस दर्ज किया गया.

ये भी पढ़ें: Weather Update: 49 डिग्री के टॉर्चर के बाद दिल्ली-NCR में बदला मौसम: आसमान में बादल, ठंडी हवाओं का झोका- 10 बड़ी बातें

दरअसल राणा दंपति ने घोषणा की थी कि वे बांद्रा में उद्धव ठाकरे के घर के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे. हनुमान चालीसा विवाद के बाद भाजपा राणा दंपति के समर्थन में उतरी है. वहीं लाउडस्पीकर विवाद तब शुरू हुआ जब 12 अप्रैल को मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने महाराष्ट्र सरकार को 3 मई तक मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने का अल्टीमेटम दिया, जिसमें विफल रहने पर, उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि मनसे कार्यकर्ता लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा बजाएंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: आज सुबह की सुर्खियां : 16 मई, 2022