विज्ञापन
Story ProgressBack

225 से 250 सीट पर चुनाव लड़ने के लिए रहें तैयार : MNS कार्यकर्ताओं को राज ठाकरे का निर्देश

मनसे ने लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को समर्थन देने की घोषणा की थी. राज ठाकरे ने राजग के लिए प्रचार भी किया था, हालांकि उनकी पार्टी कहीं भी चुनाव मैदान में नहीं थी. नंदगांवकर ने कहा, ‘‘राज ठाकरे ने पार्टी कार्यकर्ताओं से विधानसभा चुनाव में 225 से 250 सीट पर चुनाव लड़ने के लिए तैयार रहने को कहा.’’

Read Time: 3 mins
225 से 250 सीट पर चुनाव लड़ने के लिए रहें तैयार : MNS कार्यकर्ताओं को राज ठाकरे का निर्देश

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे ने बृहस्पतिवार को पार्टी कार्यकर्ताओं से आगामी चुनाव में महाराष्ट्र विधानसभा की 288 सीट में से 225-250 सीट पर चुनाव लड़ने के लिए तैयार रहने को कहा. पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने यह जानकारी दी. मनसे नेता बाला नंदगांवकर ने यहां एक बैठक के बाद पत्रकारों से कहा कि पार्टी पदाधिकारी राज्य के विभिन्न क्षेत्रों का दौरा करेंगे और चुनाव तैयारियों के बारे में ठाकरे को रिपोर्ट देंगे.

मनसे ने लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को समर्थन देने की घोषणा की थी. राज ठाकरे ने राजग के लिए प्रचार भी किया था, हालांकि उनकी पार्टी कहीं भी चुनाव मैदान में नहीं थी. नंदगांवकर ने कहा, ‘‘राज ठाकरे ने पार्टी कार्यकर्ताओं से विधानसभा चुनाव में 225 से 250 सीट पर चुनाव लड़ने के लिए तैयार रहने को कहा.''

यह पूछे जाने पर कि क्या मनसे सत्तारूढ़ भाजपा-शिवसेना-राकांपा के गठबंधन ‘महायुति' के साथ गठबंधन करेगी या अपने दम पर चुनाव लड़ेगी, उन्होंने कहा, ‘‘हम अभी इस बारे में कोई चर्चा नहीं कर रहे हैं कि हम किसके साथ बातचीत करने जा रहे हैं?''

उन्होंने कहा, ‘‘हमने अब तक अपने दम पर चुनाव लड़ा है. हम देखेंगे कि भविष्य में क्या होता है.'' वर्ष 2006 में गठित मनसे ने 2009 में अपना पहला विधानसभा चुनाव लड़ा था और 13 सीट पर जीत दर्ज की थी. राज्य में 2014 और 2019 में हुए चुनाव में इसका प्रदर्शन हालांकि निराशाजनक रहा और पार्टी को हर बार सिर्फ एक सीट ही मिली.

पार्टी के एक अन्य नेता संदीप देशपांडे ने बताया कि बैठक में ठाकरे ने कहा कि विपक्षी महा विकास आघाडी (एमवीए) को मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में नरेन्द्र मोदी विरोधी वोट मिले, लेकिन मराठी भाषी क्षेत्रों में उसे ज्यादा समर्थन नहीं मिला.

देशपांडे ने राज के हवाले से कहा, ‘‘मराठी भाषी उद्धव ठाकरे से नाराज थे क्योंकि उन्होंने कांग्रेस और राकांपा (एसपी) से हाथ मिला लिया था.''
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Video: तेंदुए का बच्चा गुजरात की एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी की लैब में घुसा, दहशत फैली
225 से 250 सीट पर चुनाव लड़ने के लिए रहें तैयार : MNS कार्यकर्ताओं को राज ठाकरे का निर्देश
रूस में 11-12 जुलाई को 10वां ब्रिक्स संसदीय मंच, भारतीय शिष्टमंडल का नेतृत्व करेंगे स्पीकर बिरला
Next Article
रूस में 11-12 जुलाई को 10वां ब्रिक्स संसदीय मंच, भारतीय शिष्टमंडल का नेतृत्व करेंगे स्पीकर बिरला
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;