"दिल्ली नगर निगमों के विलय के बाद 'जरूरत से ज्यादा' हो जाएंगे 700 कर्मचारी", 22 मई से होंगे सिर्फ एक निगम 

"एकीकृत एमसीडी में नये प्रशासन के लिए 700 जरूरत से ज्यादा कर्मचारियों को समायोजित करना एक बड़ी चुनौती होगी. उनके बारे में अभी तक फैसला नहीं हुआ है.केंद्र की अधिसूचना से इस मुद्दे पर और स्पष्टता आने की संभावना है."

22 मई से दिल्ली के तीनों नगर निगम एक हो जाएंगे.

नई दिल्ली:

दक्षिण दिल्ली नगर निगम (SDMC) का कार्यकाल बुधवार को खत्म हो गया. निकाय अधिकारियों ने कहा कि तीन नगर निगमों के विलय के बाद, लगभग 700 कर्मचारी ‘‘जरूरत से ज्यादा'' हो जाएंगे और नयी प्रणाली के लिए उन्हें समायोजित करना एक चुनौती होगी.

अधिकारियों ने कहा कि 22 मई तक तीनों नगर निगमों को भंग कर दिया जाएगा, जिससे एकीकृत दिल्ली नगर निगम (MCD) के लिए रास्ता खुल जाएगा. उत्तरी दिल्ली नगर निगम (NDMC) का कार्यकाल 19 मई को समाप्त होगा, जबकि पूर्वी दिल्ली नगर निगम (EDMC) का कार्यकाल 22 मई को पूरा होगा.

दिल्ली चुनाव आयोग ने नगर निगम चुनावों की तैयारियों पर लगाई रोक

केंद्र सरकार ने बुधवार को एक अधिसूचना जारी की, जिसमें कहा गया कि दिल्ली के तीनों नगर निगमों का 22 मई को औपचारिक रूप से विलय किया जाएगा.

एसडीएमसी की स्थायी समिति के अध्यक्ष बी के ओबेरॉय ने कहा कि दक्षिण नगर निगम के निर्वाचित प्रतिनिधियों का कार्यकाल बुधवार को समाप्त हो गया. उन्होंने कहा कि नगर निगमों के एकीकरण से पहले कर्मचारियों की सूची बनाने की कवायद चल रही है.

'जरूरत पड़ी तो MCD के विलय संबंधी विधेयक को कोर्ट में देंगे चुनौती' : CM केजरीवाल

बी के ओबेरॉय ने कहा, ‘‘तीन नगर निगमों के विलय के बाद, लगभग 700 कर्मचारी ‘जरुरत से ज्यादा' हो जाएंगे, क्योंकि प्रत्येक विभाग में कर्मचारियों की संख्या में एक-तिहाई की कमी होने की संभावना है. एकीकृत एमसीडी में नये प्रशासन के लिए इन कर्मचारियों को समायोजित करना एक बड़ी चुनौती होगी. उनके बारे में अभी तक फैसला नहीं हुआ है.'' उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र की अधिसूचना से इस मुद्दे पर और स्पष्टता आने की संभावना है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भलस्वा कूड़ा स्थल पर आग के मामले में उत्तर दिल्ली नगर निगम पर 50 लाख रुपये का जुर्माना



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)