विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Apr 16, 2020

Zoom App के इस्तेमाल को लेकर सरकार ने गाइडलाइन जारी कर लोगों को चेताया, 'यह सुरक्षित नहीं'

सरकार ने एडवाइजरी जारी कर कहा है कि वीडियो कॉलिग ऐप जूम (Zoom App) सुरक्षित प्लेटफॉर्म नहीं है.

Read Time: 8 mins

Zoom App के इस्तेमाल को लेकर सरकार ने जारी की गाइडलाइन.

नई दिल्ली:

कोरोना संकट (Coronavirus) की वजह से देश में लॉकडाउन जारी है. इस दौरान लोग एक दूसरे से जुड़ने के लिए वीडियो कॉलिग ऐप जूम (Zoom App) का इस्तेमाल कर रहे हैं. अधिकांश दफ्तरों में भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के लिए इस ऐप का इस्तेमाल किया जा रहा है. इस बीच सरकार ने एडवाइजरी जारी कर लोगों को चेताया है कि यह 'सुरक्षित नहीं है. 

जूम मीटिंग एप वीडियो कांफ्रेंस के लिए सुरक्षित प्लेटफार्म नहीं है. सरकार ने इस बाबत गाइडलाइन जारी की हैं. जो उपयोगकर्ता जूम एप का इस्तेमाल निजी कार्यों के लिए करते हैं उनके लिए गाइडलाइंस जारी की गई हैं. बता दें कि लॉकडाउन के दौरान लोग इस एप का काफी ज्यादा इस्तेमाल कर रहे हैं. गृह मंत्रालय ने एक नई एडवाइजरी जारी कर कहा कि किसी भी व्यक्ति के लिए जूम एप एक सुरक्षित प्लेटफार्म नहीं है.

Advertisement

गाइडलाइन की मदद से किसी गैर अधिकृत व्यक्ति का कॉन्फ्रेंस में हस्तक्षेप और अवांछित गतिविधि को रोका जा सकेगा. गाइडलान का पालन किया जाए तो उपयोगकर्ताओं के अलावा कोई दूसरा व्यक्ति उनकी गतिविधि को प्रभावित नहीं कर सकता है. पासवर्ड और यूजर एक्सेस के जरिए डीओएस अटैक को भी रोका जा सकता है.

गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के मुताबिक ज्यादातर सेटिंग लॉगिन करके की जा सकती है या फिर अपने लैपटॉप फोन में एप्लीकेशन डाउनलोड करके की जा सकती है. कांफ्रेंस के दौरान भी यह बदलाव किए जा सकते हैं. हालांकि कुछ सेटिंग एक खास चैनल पर ही की जा सकती है.

गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जूम एप से निजता की सुरक्षा को लेकर कई सवाल उठे हैं. टिक टॉक और जूम के ज्यादातर सरवर चीन में हैं और इनमें कुछ कमजोरियां हैं.  तकनीकी विश्लेषण कहता है कि इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप से मीटिंग का डाटा लीक हो सकता है.

एक अधिकारी ने कहा कि कारोबारी हों या सरकारी अधिकारी कृपया इसका इस्तेमाल ना करें. भारत की साइबर सिक्योरिटी एजेंसी ने पहले ही उपयोगकर्ताओं को इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप में लगाई जाने वाली सेंध को लेकर जागरूक किया था. पासवर्ड लीक होने और हैकर्स द्वारा वीडियो कॉल कांफ्रेंस के दौरान हाईजैक किए जाने की शिकायतों के बाद गाइडलाइन जारी की गई .

Advertisement


  

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
अदाणी ग्रुप ने कोयला सप्लाई में गड़बड़ी के आरोपों को बताया बेबुनियाद, मार्केट कैप में आया बड़ा उछाल
Zoom App के इस्तेमाल को लेकर सरकार ने गाइडलाइन जारी कर लोगों को चेताया, 'यह सुरक्षित नहीं'
लोकसभा चुनाव : पांचवें चरण की 49 सीटों पर प्रचार खत्‍म, 20 मई को मतदान; इन दिग्‍गजों की किस्‍मत दांव पर
Next Article
लोकसभा चुनाव : पांचवें चरण की 49 सीटों पर प्रचार खत्‍म, 20 मई को मतदान; इन दिग्‍गजों की किस्‍मत दांव पर
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;