दिल्ली में महिला और बेटी की लोहे की रॉड और डंडों से पिटाई, CCTV में कैद हुई घटना

दिल्ली के शालीमार बाग इलाके में एक महिला के साथ मारपीट की एक घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है. सीसीटीवी फुटेज में कुछ लोग एक महिला को लाठी व सरिए की रॉड से मारते दिखाई देते हैं.

दिल्ली में महिला और बेटी की लोहे की रॉड और डंडों से पिटाई, CCTV में कैद हुई घटना

महिला के साथ मारपीट की एक घटना सीसीटीवी में कैद हो गई

नई दिल्ली:

दिल्ली के शालीमार बाग इलाके में एक महिला के साथ मारपीट की घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है. सीसीटीवी फुटेज में कुछ लोग एक महिला को लाठी व लोहे की रॉड से मारते दिखाई देते हैं. दिल्ली पुलिस के अनुसार यह घटना पिछले महीने की है और हमले का आरोप आप आदमी पार्टी की विधायक बंदना कुमारी पर लगाया गया है. सीसीटीवी में साफ दिख रहा है कि एक महिला अपनी गाड़ी पार्क कर रही है. गाड़ी में ड्राइविंग सीट के साथ वाली सीट से एक लड़की और पीछे बैठी एक लड़की उतरती है. तभी सामने से दो महिलाएं दो-तीन लड़को के साथ वहां आ जाती हैं और लड़की के साथ वह लड़के मारपिटाई करने लगते हैं. गाडी की ड्राइविंग सीट पर बैठी महिला जब उतरती है तो उसकी डंडों से बेरहमी से पिटाई कर वे वहां से फरार हो जाते है.

यह वारदात 19 नवंबर की है. पीड़ित महिला को मंगलवार को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है. पीड़ित महिला ने हमला करवाने का आरोप आम आदमी पार्टी की शालीमार बाग से विधायक वंदना कुमारी पर लगाया है. FIR में लिखी शिकायत में विधायक का नाम है. लेकिन उनके खिलाफ एफआइआर नहीं हुई है. एफआईआर में पीड़िता ने लिखवाया है कि हमलावर विधायक बंदना कुमारी ने भेजे थे.

पीड़ित महिला ने कहा, "19 नवंबर की रात मेरी बेटी और मुझ पर आप विधायक बंदना कुमारी के लोगों ने हमला किया. यह हमला मुझ पर इस​लिए किया गया क्योंकि मैंने बंदना कुमारी के पति के खिलाफ 2019 में एफआईआर दर्ज करवाई थी. मैं कुमारी के गलत कारनामों का पर्दाफाश करती रहती थी. पूर्व में उनके खिलाफ कई शिकायतें भी दर्ज की जा चुकी हैं."


दिल्‍ली में शादी समारोह में फायरिंग, मां-बेटा हुए घायल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुलिस का कहना है की दोनों महिलाओं को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. बाकि आरोपियों की तलाश जारी है. उधर विधायक बंदना कुमारी ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया, "मेरे खिलाफ सारे आरोप बेबुनियाद हैं. पीड़िता मेरे पड़ोस में रहती है और मुझ पर आरोप लगाते रहना उसका स्वभाव है. मेरा उससे या इस केस से कोई संबंध नहीं है."