Weather Report Update: आज दिल्ली में दस्तक दे सकता है मॉनसून, जानें- कहां-कहां बरसेंगे बदरा?

\मौसम विभाग ने रविवार को आसमान में बादल छाए रहने और एक या दो बार बारिश की संभावना जतायी है.

Weather Report Update: आज दिल्ली में दस्तक दे सकता है मॉनसून, जानें- कहां-कहां बरसेंगे बदरा?

अगले 24 घंटों में मॉनसून के राष्ट्रीय राजधानी में पहुंचने की उम्मीद है.

नई दिल्ली:

दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के रविवार को दिल्ली पहुंचने की संभावना है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार अगले 24 घंटों में मॉनसून के राष्ट्रीय राजधानी में पहुंचने की उम्मीद है. मौसम विभाग ने रविवार को आसमान में बादल छाए रहने और एक या दो बार बारिश की संभावना जतायी है. उसने कहा कि दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थिति पूर्वी हवाओं के कारण अनुकूल बन गयी है और इसके एक दिन में दिल्ली, हरियाणा और पंजाब सहित उत्तर भारत के कुछ हिस्सों तक पहुंचने की संभावना है.

मौसम विभाग के मुताबिक आज जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गालगिट-बाल्टिस्तान, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में बारिश हो सकती है. इनके अलावा पश्चिमी उत्तर प्रदेश और दक्षिणी राजस्थान के भी कई इलाकों में बारिश की संभावना जताई गई है.

IMD के मुताबिक, अगले दो-तीन दिनों तक दिल्ली और एनसीआर में बारिश का मौसम बना रहेगा. विभाग के मुताबिक इस दौरान बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश में बिजली कड़कने के साथ भारी बारिश  हो सकती है.

दिल्ली-एनसीआर में मानसून आज देगा दस्तक, तेज बारिश होने का पूर्वानुमान मौसम विभाग ने जताया

मौसम विभाग ने बताया कि दिल्ली में मानसून पहुंचने का अनुकूल स्थितियां बनी हैं. बंगाल की खाड़ी से निचले स्तर की पूर्वी हवाएं कल से उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ रही हैं, जो दिल्ली, हरियाणा और पूर्वी राजस्थान तक पहुंच रही हैं. विभाग के मुताबिक, इस क्षेत्र में निम्न स्तर की सापेक्ष आर्द्रता भी बढ़ गई है.

IMD के मुताबिक, अगले 24 घंटों के दौरान दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शेष हिस्सों, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के कुछ और हिस्सों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल बनी हुई हैं.

मौसम कार्यालय ने शुक्रवार को अपने पूर्वानुमान में कहा था कि मॉनसून 27 जून की सामान्य तिथि के 13 दिन बाद शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी में पहुंच जाएगा. दिल्ली में पिछले 15 साल के दौरान इस बार मॉनसून सबसे ज्यादा देरी से पहुंच रहा है. आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव के अनुसार मॉनसून 2012 में सात जुलाई को और 2006 में नौ जुलाई को राजधानी पहुंचा था. उन्होंने कहा कि 2002 में दिल्ली में 19 जुलाई को पहली बार मॉनसूनी बारिश हुई थी. शहर में सबसे अधिक देरी से मॉनसून 1987 में 26 जुलाई को आया था.

Weather Updates: दिल्ली-NCR में वीकेंड पर होगा मौसम सुहाना, फिर बारिश, जानें- कहां तक पहुंचा मानसून?


इस बीच, शनिवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 39.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि न्यूनतम तापमान 28.6 डिग्री सेल्सियस रहा. सापेक्षिक आर्द्रता का स्तर शाम 5.30 बजे 47 प्रतिशत दर्ज किया गया.  केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, शाम 7.05 बजे दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 96 था. शून्य और 50 के बीच के एक्यूआई को ‘अच्छा', 51 से 100 के बीच को ‘संतोषजनक', 101 से 200 के बीच को ‘मध्यम', 201 से 300 के बीच को ‘खराब', 301 से 400 के बीच को ‘बहुत खराब' और 401 से 500 के बीच को ‘गंभीर' माना जाता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com