उत्तराखंड में कोरोना का कहर जारी, फिर मिले एक दिन के सर्वाधिक 8517 मामले, 151 मरीजों की मौत

ताजा मामलों में सर्वाधिक 3123 कोविड मरीज देहरादून जिले में मिले जबकि उधमसिंह नगर में 1130, हरिद्वार में 1045, नैनीताल में 847 और पौडी में 413 नए मरीज सामने आए.

उत्तराखंड में कोरोना का कहर जारी, फिर मिले एक दिन के सर्वाधिक 8517 मामले, 151 मरीजों की मौत

प्रतीकात्मक तस्वीर.

देहरादून:

उत्तराखंड में कोरोना का कहर जारी है. प्रदेश में गुरुवार को एक बार फिर एक दिन में सर्वाधिक 8517 कोविड मरीजों के मिलने तथा 151 अन्य मरीजों की महामारी से मौत का नया रिकार्ड बना. इससे पहले एक दिन में सर्वाधिक कोविड मरीज कल बुधवार को ही मिले थे जब 7783 नए कोरोना संक्रमित सामने आए थे जबकि तीन मई को सर्वाधिक 128 लोगों की मौत हो गयी थी. यहां स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, ताजा मामलों को मिलाकर अब तक प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 220351 हो चुकी है.

देहरादून में आज से एक सप्ताह का कोरोना कर्फ्यू, जानें क्या खुलेगा और किस पर रहेगी पाबंदी? 

ताजा मामलों में सर्वाधिक 3123 कोविड मरीज देहरादून जिले में मिले जबकि उधमसिंह नगर में 1130, हरिद्वार में 1045, नैनीताल में 847 और पौडी में 413 नए मरीज सामने आए. इसके अलावा, ताजा मौतों को मिलाकर प्रदेश में अब तक कुल 3293 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है. प्रदेश में उपचाराधीन मामलों की संख्या 62911 हैं जबकि 149489 मरीज अब तक स्वस्थ हो चुके हैं .

इससे पहले उत्तराखंड में बेकाबू होते जा रहे कोरोना वायरस को देखते हुए सरकार ने देहरादून समेत सर्वाधिक प्रभावित तीन जिलों में बृहस्पतिवार से 10 मई तक कर्फ्यू लगा दिया है और बाकी जिलाधिकारियों को अपने क्षेत्रों में स्थिति का आकलन कर इस बारे में फैसला लेने को कहा है. प्रदेश के मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने यहां इस संबंध में एक आदेश जारी करते हुए कहा कि कोरोना वायरस के मामले बढ़ने के मद्देनजर देहरादून, हरिद्वार और उधमसिंह नगर के जिलाधिकारियों को अपने जिलों में छह मई से दस मई की सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू लागू करने के निर्देश दिए गए हैं. 

उत्तराखंड: कोरोना के कारण बंद हुए पहली से 12वीं तक के स्कूल

उन्होंने कहा कि हालांकि, अन्य 10 जिलों के जिलाधिकारियों को स्थिति का आकलन करने तथा उसके आधार पर छह मई से 10 मई की सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू लगाने के बारे में निर्णय लेने को कहा गया है. कर्फ्यू के दौरान अंतर्राज्यीय और राज्य में व्यक्तियों या सामान के आवागमन पर कोई रोक नहीं रहेगी. इस दौरान सरकारी दफ्तर खुले रहेंगे और सभी उद्योग, माल ढोने वाले वाहन, निर्माण कार्य और अन्य आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी. राशन की दुकानें एक दिन छोड़कर जबकि दूध, सब्जी आदि की दुकानें हर दिन 12 बजे तक ही खुलेंगी.


महाराष्ट्र : इन 6 राज्यों से आने वालों के लिए RT-PCR रिपोर्ट जरूरी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)