UP Panchayat Chunav 2021: 'विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल', कोरोना के बीच पहले चरण की वोटिंग जारी

यूपी पंचायत चुनाव 2021: अगले साल के विधानसभा चुनावों से पहले हो रहे पंचायत चुनाव के पहले चरण के तहत गुरुवार को 18 जिलों में वोटिंग हो रही है. ये चुनाव तब हो रहे हैं, जब कोरोना की दूसरी लहर भयंकर तरीके से फैल रही है.

UP Panchayat Chunav 2021: 'विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल', कोरोना के बीच पहले चरण की वोटिंग जारी

यूपी पंचायत चुनाव: गुरुवार को पहले चरण के तहत 18 जिलों में वोटिंग.

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव का 'सेमीफाइनल' माने जा रहे पंचायत चुनाव के पहले चरण के तहत गुरुवार को 18 जिलों में वोटिंग हो रही है. मतदान केंद्रों पर सुबह से ही मतदाताओं की लाइनें लगी नजर आ रही हैं. यूपी में पंचायत चुनाव तब हो रहे हैं, जब कोरोना की दूसरी लहर ने राज्य सहित पूरे देश को अपनी चपेट में जकड़ रखा है.

इन चुनावों के तहत 2.21 लाख से ज्यादा पदों के लिए मतदान होगा. जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य के 2.21 लाख से अधिक पदों के लिए 3.33 लाख से ज्यादा उम्मीदवार मैदान में हैं. मतदान सुबह सात बजे से शुरू होकर शाम छह बजे तक चलेगा.

आज पहले चरण के चुनाव में 3.16 करोड़ वोटर 299012 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. आज 18 जिला पंचायतों के 779 वार्डो में 11749 क्षेत्र पंचायत के 19313 वार्डो में 71418 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं. 14789 ग्राम पंचायतों में प्रधान पद के लिए 108562 उम्मीदवार मैदान में है. ग्राम पंचायतों के लिए 186583 वार्डो में 107283 उम्मीदवार मैदान में हैं. अगले फेज में 19,26,29 को चुनाव होंगे. 2 मई को नतीजे आएंगे.

चार चरणों में होने वाले चुनाव के पहले चरण में अयोध्या, आगरा, कानपुर, गाजियाबाद, गोरखपुर, जौनपुर, झांसी, प्रयागराज, बरेली, भदोही, महोबा, रामपुर, रायबरेली, श्रावस्ती, संत कबीर नगर, सहारनपुर, हरदोई और हाथरस जिलों में मतदान होगा.

पहले चरण में जिला पंचायत सदस्य के 779 पदों के लिए 11,442 प्रत्याशी, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 19,313 पदों के लिए 81,747 उम्मीदवार, ग्राम प्रधान के 14,789 पदों के लिए 1,14,142 प्रत्याशी तथा ग्राम पंचायत वार्ड सदस्यों के 1,86,583 पदों के लिए 1,26,613 उम्मीदवार मैदान में हैं. इस बार चुनाव मैदान में भाजपा, सपा और कांग्रेस के साथ-साथ, आम आदमी पार्टी, आजाद समाज पार्टी तथा असदुद्दीन ओवैसी की अगुवाई वाली ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन भी है.


प्रदेश के अपर निर्वाचन आयुक्त वेद प्रकाश वर्मा ने बुधवार को बताया कि मतदान कोविड-19 संबंधित कड़े प्रोटोकॉल के बीच होगा. इस दौरान मतदाताओं को मास्क लगाना और सामाजिक दूरी बनाए रखना अनिवार्य होगा. आयोग ने मतदान केंद्रों के बाहर छह-छह फुट की दूरी पर घेरे बनाने का आदेश जारी किया है. उन्होंने बताया कि आगामी दो मई को मतगणना के दौरान भी कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया जाएगा और जरूरत पड़ने पर पीपीई किट की भी व्यवस्था की जाएगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(भाषा और ANI से इनपुट)