Top Tweets of the Day : कोविड पर राहुल गांधी का 'व्हाइट पेपर', चिराग पासवान ने फिर साझा की नई चिट्ठी

Top Tweets of The Day: इस लेख में आपको ट्विटर के जरूरी अपडेट्स देने की कोशिश की जा रही है. देश के अहम और आपके सरोकार के मुद्दों पर अहम टिप्पणियों और बहसों को यहां समेटने की कोशिश कर रहे हैं.

Top Tweets of the Day : कोविड पर राहुल गांधी का 'व्हाइट पेपर', चिराग पासवान ने फिर साझा की नई चिट्ठी

Twitter Updates : बड़े मुद्दों पर हलचल का लेखा-जोखा.

नई दिल्ली:

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर आज क्या हलचल है, किसने क्या ट्वीट किया, कौन सा मुद्दा तेज रहा, इस लेख में आपको ट्विटर के जरूरी अपडेट्स देने की कोशिश की जा रही है. हम देश के बड़े और आपके सरोकार के मुद्दों पर अहम टिप्पणियों और बहसों को यहां समेटने की कोशिश कर रहे हैं.

- राहुल गांधी ने कांग्रेस की ओर से कोविड-19 जारी किया व्हाइट पेपर

राहुल गांधी ने कोविड-19 को लेकर एक व्हाइट पेपर जारी किया है, जिसमें तीसरी लहर को लेकर तैयारी की बात कही गई है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'हमारे व्हाइट पेपर के पीछे का मकसद इनसाइट और इनफॉर्मेशन देना है, ताकि आने वाली लहर में मौतों को रोका जा सके. भारत सरकार को देश के लोगों के हित में हमारे इनपुट पर काम करना चाहिए.'

- केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर हमला किया

- लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान ने आज फिर एक चिट्ठी साझा कर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और अपने चाचा पशुपति पारस पर निशाना साधा है.

- समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में कोविड से हुई मौतों के आंकड़ों में अंतर की आशंकाओं पर पर योगी सरकार पर हमला किया.

- बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने वैक्सीनेशन पर राजनीति को लेकर ट्वीट किया.


उन्होंने कहा कि 'देश में कोरोना वैक्सीन के निर्माण व उसके बाद टीकाकरण आदि को लेकर विवाद, राजनीति, आरोप-प्रत्यारोप आदि अब काफी हो चुका, जिसका दुष्परिणाम यहाँ की जनता को काफी भुगतना पड़ रहा है। किन्तु अब वैक्सीन विवाद को विराम देकर इसका लाभ जन-जन तक पहुँचाने का चौतरफा प्रयास जरूरी.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ट्वीट में कहा गया कि 'भारत जैसे विशाल ग्रामीण बाहुल्य देश में कोरोना टीकाकरण को जन अभियान बनाने तथा वैज्ञानिकों आदि को समुचित समर्थन व प्रोत्साहन देने की भी कमी को दूर करना आवश्यक. साथ ही, बुनियादी स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत बनाने की केन्द्र व सभी राज्य सरकारों से बीएसपी की यह मांग है.'