'यूपीए क्‍या है? कोई यूपीए नहीं है' : शरद पवार से मुलाकात के बाद बोलीं तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी

कल शाम ममता बनर्जी ने शिवसेना के आदित्‍य ठाकरे और संजय राउत से मुलाकात की थी.

मुंबई :

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बुधवार को साफ कहा कि वे 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों में नए विपक्षी गठबंधन को देख रही हैं. ममता इस समय राष्‍ट्रीय स्‍तर पर खुद को स्‍थापित करने के लिए कांग्रेस पर निशाना साध रही हैं. राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता शरद पवार से मुलाकात करने के बाद उन्‍होंने कहा, 'यूपीए क्‍या है? कोई यूपीए नहीं है.'पवार जो कि 2019 के आम चुनाव के पहले विपक्ष के प्रमुख वार्ताकार थे, ने  इसे "Template for 2024" का नाम दिया. उन्‍होंने इस मीटिंग का फोटो भी ट्वीट किया, 'पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के अपने मुंबई स्थित निवास पर मुलाकात कर प्रसन्‍नता हुई. हमने विभिन्‍न मुद्दों पर बात की. लोकतांत्रिक मूल्‍यों की रक्षा करने और लोगों की बेहतरी के लिए हम सामूहिक प्रयास पर सहमत हुए.'

यह पूछे जाने पर कि क्या कांग्रेस के बिना गठबंधन होने की संभावना है, पवार ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘भाजपा का विरोध करने वालों का साथ आने को लेकर स्वागत है. किसी को बाहर करने का सवाल ही नहीं है.''NCP प्रमुखा ने कहा, ‘‘हमने मौजूदा स्थिति और सभी समान विचारधारा वाले दलों को साथ आने और भाजपा का एक मजबूत विकल्प प्रदान करने की आवश्यकता पर चर्चा की.''उन्होंने कहा, ‘‘इस समय नेतृत्व कोई मुद्दा नहीं है, हमें एकजुट होकर भाजपा के खिलाफ काम करने की जरूरत है.'' यह पूछे जाने पर कि क्या वह चाहती हैं कि पवार कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) के अध्यक्ष बनें, बनर्जी ने कहा, ‘‘अभी कोई यूपीए नहीं है.''

कल शाम ममता ने शिवसेना के आदित्‍य ठाकरे और संजय राउत से मुलाकात की थी. उद्धव ठाकरे के साथ उनकी मुलाकात इसलिए नहीं हो पाई थी क्‍योंकि महाराष्‍ट्र के सीएम उद्धव हाल ही में सर्जरी से गुजरे हैं और उन्‍हें आराम की सलाह दी गई है.

निलंबन पर तकरार : धरने पर बैठे विपक्षी सांसद

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com