''खामियाजा भुगतना होगा,'' वेब सीरीज तांडव के 'निर्माताओं' और सैफ अली खान के खिलाफ यूपी में केस दर्ज, दी गई चेतावनी

Tandav Controversy: उत्तर प्रदेश पुलिस ने तांडव वेब सीरीज के निर्माताओं को एमेजॉन प्राइम के खिलाफ आपराधिक केस दर्ज किया है. योगी के मीडिया सलाहकार ने मामले में गिरफ्तारी किए जाने की चेतावनी भी दी है.

''खामियाजा भुगतना होगा,'' वेब सीरीज तांडव के 'निर्माताओं' और सैफ अली खान के खिलाफ यूपी में केस दर्ज, दी गई चेतावनी

Tandav Row : तांडव के निर्माताओं के खिलाफ लखनऊ में दर्ज किया गया है केस.

खास बातें

  • तांडव वेब सीरीज को लेकर विवाद शुरू
  • लखनऊ के हज़रतगंदज पुलिस स्टेशन में केस दर्ज
  • योगी के अधिकारी ने गिरफ्तारी की चेतावनी दी
नई दिल्ली:

Tandav Row : एमेजॉन प्राइम की नई वेब सीरीज 'तांडव' को लेकर विवाद खड़ा हो गया है. उत्तर प्रदेश पुलिस ने सीरीज के निर्माताओं और स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया है. इस सीरीज में कथित रूप से हिंदू देवी-देवताओं का अपमान किए जाने का आरोप लगाया गया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस मामले में गिरफ्तारी की चेतावनी दी है.

बता दें कि कथित रूप से केंद्रीय सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने महाराष्ट्र के बीजेपी नेता राम कदम की शिकायत के बाद इस मामले एमेजॉन प्राइम से जवाब मांगा था, जिसके बाद यह केस दर्ज किया गया है. सैफ अली खान और डिंपल कपाड़िया जैसे बड़े स्टार वाली इस सीरीज के डायरेक्टर, प्रोड्यूसर और राइटर सहित एमेजॉन प्राइम के इंडिया ओरिजिनल कंटेंट के हेड पर इस सीरीज के जरिए देश में धार्मिक शत्रुता और पूजा के स्थान का अपमान करने का आरोप लगा है.

यह शिकायत लखनऊ के हज़रतगंज पुलिस स्टेशन में वहीं पर पोस्टेड एक सब-इंस्पेक्टर की ओर से दर्ज कराया गया है. 

केस दर्ज होने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार शलभमणि त्रिपाठी ने ट्विटर पर इसकी कॉपी शेयर की और लिखा, 'जन भावनाओं के साथ खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं, घटिया वेब सीरीज की आड़ मं नफरत फैलाने वाली वेब सीरीज तांडव की पूरी टीम के खिलाफ योगीजी के उत्तर प्रदेश में गंभीर धाराओं में मामला दर्ज, जल्द गिरफ्तारी की तैयारी !!'


 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


शिकायत दर्ज कराने वाले पुलिसकर्मी ने बताया कि ट्विटर पर फिल्म की आलोचनाओं को देखने के बाद उसने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी जानकारी दी थी, जिसके बाद उसे यह सीरीज देखने का आदेश मिला था. इस शिकायत में कहा गया है, 'पहले एपिसोड में 17वें मिनट में हिंदू देवी-देवताओं को बेहद विद्रूप ढंग से रूप धारण कर धर्म से जोड़कर अमर्यादित तरीके से देवी-देवताओं को बोलते हुए दिखाया गया है और निम्न स्तरीय भाषा का प्रयोग किया गया है, जो धार्मिक भावनाओं को भड़काने वाला एवं आघात पहुंचाने वाला है.'