कुछ नेता अब भी आर्टिकल 370 बहाल होने का सपना देख रहे, यह असंभव : बीजेपी

जम्मू कश्मीर भाजपा के अध्यक्ष रवींद्र रैना ने कहा- राजनीतिक दलों को इस अध्याय को पीछे छोड़ देना चाहिए और जब भी विधानसभा चुनाव हों, उनमें भाग लेना चाहिए

कुछ नेता अब भी आर्टिकल 370 बहाल होने का सपना देख रहे, यह असंभव : बीजेपी

जम्मू-कश्मीर बीजेपी के अध्यक्ष रवींद्र रैना (फाइल फोटो).

खास बातें

  • केंद्र सरकार पूर्ण राज्य का दर्जा बहाल करने के लिए वचनबद्ध
  • 370 ने अलगाववाद, आतंकवाद व पाकिस्तानी विचारधारा को जन्म दिया
  • रैना ने जम्मू कश्मीर पर सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लिया था
जम्मू:

जम्मू कश्मीर भाजपा के अध्यक्ष रवींद्र रैना ने शनिवार को कहा कि कुछ नेता अब भी अनुच्छेद 370 के बहाल होने का सपना देख रहे हैं जो असंभव है. उन्होंने कहा कि राजनीतिक दलों को इस अध्याय को पीछे छोड़ देना चाहिए और जब भी विधानसभा चुनाव हों, उनमें भाग लेना चाहिए. दिल्ली में सर्वदलीय बैठक में भाग लेने के बाद लौटने पर यहां पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं से बातचीत में रैना ने यह भी कहा कि केंद्र सरकार जम्मू कश्मीर के पूर्ण राज्य के दर्जे को बहाल करने के लिए वचनबद्ध है.

रैना ने कहा, ‘‘कुछ नेता अनुच्छेद 370 बहाल करने का सपना अब भी देख रहे हैं जिसने जम्मू कश्मीर में अलगाववाद, आतंकवाद तथा पाकिस्तानी विचारधारा को जन्म दिया और लाखों लोगों की जान चली गयी तथा लोगों को परेशानी हुई. इसका बहाल होना नामुमकिन है. यह कयामत होने तक तो बहाल नहीं हो सकता.''

रैना, पूर्व उप मुख्यमंत्रियों निर्मल सिंह तथा कवींद्र गुप्ता ने 24 जून को प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में जम्मू कश्मीर पर सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लिया था. रैना ने कहा कि उक्त बैठक ने केंद्रशासित प्रदेश में करीब ढाई साल से बने राजनीतिक गतिरोध को समाप्त किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती के अनुच्छेद 370 बहाल नहीं होने तक चुनाव में भाग नहीं लेने के दावे के बारे में पूछे जाने पर रैना ने कहा कि पंजीकृत राजनीतिक दलों को अब आगे बढ़ना चाहिए तथा जम्मू कश्मीर की जनता के कल्याण के लिए काम करना चाहिए.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)