Pollution in Delhi: दिल्ली में तेज हवा चलने से AQI में मामूली सुधार, जानिए क्या है प्रदूषण का हाल

एजेंसी ''सफर'' ने कहा कि सोमवार को एक्यूआई ‘बहुत खराब’ श्रेणी में काफी निचले स्तर पर रही. एजेंसी ने इसका श्रेय पराली जलाने की घटनाओं में कमी और तेज हवा को दिया.

Pollution in Delhi: दिल्ली में तेज हवा चलने से AQI में मामूली सुधार, जानिए क्या है प्रदूषण का हाल

सोमवार को चली तेज हवा के मंगलवार को भी बने रहने की उम्मीद है

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी (Delhj) और इसके आसपास के क्षेत्रों में तेज हवा चलने से सोमवार को वायु गुणवत्ता (AQI) में मामूली सुधार आया और दृश्यता भी बेहतर हुई है. दिल्ली में पिछले 24 घंटे के दौरान औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 311 दर्ज किया गया, जोकि रविवार के 349 के मुकाबले कम रहा. वहीं, पड़ोस के फरीदाबाद में एक्यूआई 330, गाजियाबाद में 254, ग्रेटर नोएडा में 202, गुरुग्राम में 310 और नोएडा में 270 दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के वरिष्ठ वैज्ञानिक आर. के. जेनामणि ने कहा कि 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलीं पश्चिमी हवाओं से दृश्यता सुधरकर 3,200 मीटर तक हो गई. नवंबर के दौरान अब तक केवल सोमवार का ही दिन रहा जब पालम वेधशाला ने 3,000 मीटर से अधिक की दृश्यता और इतनी तेजा हवा दर्ज की. 

दिल्ली में प्रदूषण के चलते कंस्ट्रक्शन एक्टिविटी पर लगा प्रतिबंध हटाया गया

वायु गुणवत्ता की निगरानी करने वाली पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की एजेंसी ''सफर'' ने कहा कि सोमवार को एक्यूआई ‘बहुत खराब' श्रेणी में काफी निचले स्तर पर रही. एजेंसी ने इसका श्रेय पराली जलाने की घटनाओं में कमी और तेज हवा को दिया. सफर के मुताबिक, मंगलवार को भी तेज हवा जारी रहने की उम्मीद है, जिससे वायु गुणवत्ता में (पराली जलाने की घटनाओं में इजाफा नहीं होने की सूरत में) और अधिक सुधार देखा जा सकता है. 

मेट्रो में खड़े होकर कर सकेंगे यात्रा, सार्वजनिक बसें बढ़ीं- दिल्ली में प्रदूषण से निपटने के लिए हुए ये बदलाव


इसने कहा कि सोमवार को चली तेज हवा के मंगलवार को भी बने रहने की उम्मीद है. हालांकि, बुधवार से हवा की गति मंद पड़ने के पूर्वानुमान के चलते वायु गुणवत्ता प्रभावित हो सकती है. सफर के मुताबिक, सोमवार को पराली जलाने की 909 घटनाओं का दिल्ली के पीएम 2.5 कणों के प्रदूषण में छह फीसदी योगदान रहा. एक्यूआई को शून्य और 50 के बीच ''अच्छा'', 51 और 100 के बीच ''संतोषजनक'', 101 और 200 के बीच ''मध्यम'', 201 और 300 के बीच ''खराब'', 301 और 400 के बीच ''बहुत खराब'' और 401 और 500 के बीच ''गंभीर'' श्रेणी में माना जाता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिल्ली में वायु प्रदूषण, दिन भर खुले में काम करने वालों की सेहत पर बुरा असर



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)