दुर्लभ बीमारी से ग्रस्त बच्ची की दवा पर छह करोड़ की इम्पोर्ट ड्यूटी और जीएसटी माफ

केंद्र सरकार ने स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी से पीड़ित पांच माह की बच्ची की आयातित दवाइयों पर कर और आयात शुल्क माफ किया

दुर्लभ बीमारी से ग्रस्त बच्ची की दवा पर छह करोड़ की इम्पोर्ट ड्यूटी और जीएसटी माफ

प्रतीकात्मक फोटो.

मुंबई:

केंद्र सरकार ने किसी दुर्लभ बीमारी से ग्रस्त पांच महीने की एक बच्ची की दवाइयों पर छह करोड़ रुपये का आयात शुल्क एवं जीएसटी माफ कर दिया है. भाजपा नेता देवेंद्र फड़णवीस ने मंगलवार को यह जानकारी दी. मुंबई की एक उपनगरीय अस्पताल में भर्ती तीरा कामत ‘स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी' (Spinal Muscular Atrophy) से ग्रस्त है जिसमें तंत्रिका कोशिकाएं काम करना बंद कर देती हैं और उनका मांसपेशियों की गतिविधि पर नियंत्रण नहीं रहता. 


उसके माता-पिता प्रियंका और मिहिर कामत ने सोशल मीडिया पर अपनी बच्चे के बारे में लिखा और जिससे धनराशि मिली एवं कर की माफी हुई.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसकी कारगर दवा जोलगेंस्मा आयात की जाती है और इस पर 23 फीसदी आयात कर और 12 फीसदी जीसएटी लगता है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)