दिल्ली में बारिश के मामले में बंपर रहा सितंबर, 77 साल का रिकॉर्ड टूटा

मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, दिल्ली में 1914 में 360.9 मिमी, 1945 में 359.2 मिमी और 1933 में 341.9 मिमी बारिश दर्ज की गई थी. दिल्ली में इस साल सितंबर में तीन बार भारी बारिश हुई है.

दिल्ली में बारिश के मामले में बंपर रहा सितंबर, 77 साल का रिकॉर्ड टूटा

दिल्ली में सितंबर में शनिवार शाम तक 383.4 मिमी बारिश दर्ज की गई. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली में सितंबर में शनिवार शाम तक 383.4 मिमी बारिश दर्ज की गई है, जो इस महीने में 77 वर्षों में सबसे अधिक है. आईएमडी के एक अधिकारी ने कहा कि सितंबर 1944 में शहर में 417.3 मिमी बारिश हुई थी, जो 1901-2021 की अवधि में सबसे अधिक थी. उन्होंने कहा कि इस साल सितंबर में शनिवार शाम साढ़े पांच बजे तक 383.4 मिमी बारिश हो चुकी है. मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, दिल्ली में 1914 में 360.9 मिमी, 1945 में 359.2 मिमी और 1933 में 341.9 मिमी बारिश दर्ज की गई थी. दिल्ली में इस साल सितंबर में तीन बार भारी बारिश हुई है. एक सितंबर को 112.1 मिमी; 2 सितंबर को 117.7 मिमी और 11 सितंबर (शनिवार) को 94.7 मिमी बारिश हुई, जो बीते एक दशक में इस महीने में सबसे अधिक है.


सितंबर 2017 में दो बार इतनी भारी बारिश दर्ज हुई थी. एक निजी पूर्वानुमान एजेंसी ''स्काईमेट वेदर'' के अध्यक्ष (मौसम विज्ञान) जी पी शर्मा ने दिल्ली में इस सितंबर में रिकॉर्ड तोड़ बारिश के दो कारण बताए. उन्होंने कहा कि मानसून की देरी से वापसी और उसके निम्न दबाव प्रणाली का जल्दी बनना इसकी वजह हो सकते हैं. उन्होंने कहा, ''मानसून की देर से वापसी के मामले में नम हवा का द्रव्यमान लंबे समय तक बना रहता है. यह इसकी पहुंच से बहुत दूर चला जाता है और राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा के कुछ हिस्सों में बारिश होती है.'' उन्होंने कहा, ''दूसरा, निम्न दबाव प्रणाली तेजी से बन रही है. अभी आधा महीना भी नहीं गुजरा है और हमारे पास पहले से ही दो अच्छी प्रणालियां हैं. अगस्त में, हमारे पास केवल एक ऐसी प्रणाली थी.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिल्ली सितंबर में बारिश का नया सर्वकालिक रिकॉर्ड बनाने की ओर अग्रसर है. अधिकारी ने कहा, ''अगले दो दिनों में हल्की से मध्यम बारिश का अनुमान है. 17-18 सितंबर के आसपास एक बार फिर बारिश का अनुमान है.'' इस साल सितंबर में हुई बारिश पिछले साल की तुलना में काफी विपरीत रही है. पिछले साल सितंबर में दिल्ली में सामान्य 129.8 मिमी के मुकाबले 20.9 मिमी वर्षा हुई थी. दिल्ली में 13 जुलाई तक मॉनसून पूरी तरह रंग में आया. इस लिहाज से इस बार मॉनसून के पूरी तरह फैलने में देरी ने 19 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया. जुलाई में दिल्ली में 16 वर्षा दिवस रिकॉर्ड किये गए, जो बीते चार साल में सर्वाधिक है. अगस्त में दिल्ली में मात्र दस दिन वर्षा हुई जो सात साल में सबसे कम थी.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)