राम मंदिर बर्दाश्त नहीं इसलिए हो रहा है किसान आंदोलन : योगी आदित्यनाथ 

सीएम योगी ने कहा कि विपक्ष कश्मीर में धारा 370 खत्म करने से भी नाराज है इसलिए वो किसानों को गुमराह कर उन्हें सरकार के खिलाफ आंदोलन करवा रहा है.  

राम मंदिर बर्दाश्त नहीं इसलिए हो रहा है किसान आंदोलन : योगी आदित्यनाथ 

बरेली की किसान रैली में योगी आदित्यनाथ (@BJP4UP)

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा है कि अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर का निर्माण विपक्ष को बर्दाश्त नहीं हो रहा है. इसलिए वो कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों से आंदोलन करवा रहा है. बीजेपी किसानों तक अपनी बात पहुंचाने के लिए जगह-जगह किसान रैली कर रही है. उसी सिलसिले में आज बरेली की किसान रैली में योगी आदित्यनाथ ने ये बात कही.

बरेली की किसान रैली में योगी आदित्यनाथ ने किसानों के सामने सरकार का नजरिया पेश किया. उन्होंने कहा,  "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण शुरू कर दिया है जो विपक्ष को बर्दाश्त नहीं है. इसलिए वो किसानों को गुमराह कर आंदोलन करवा रहा है." 

सीएम योगी ने रैली के दौरान अपने संबोधन में कहा, "मैं पूछना चाहता हूं....आप बताएं कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनना चाहिए या नहीं बनना चाहिए? मोदी जी नने ये काम ठीक किया? आप समर्थन करते हैं? एक बार बोलिए....जय श्रीराम... "

सीएम योगी ने कहा कि विपक्ष कश्मीर में धारा 370 खत्म करने से भी नाराज है इसलिए वो किसानों को गुमराह कर उन्हें सरकार के खिलाफ आंदोलन करवा रहा है. इससे वहां अलगाववाद भी खत्म होगा और आप वहां जमीन भी खरीद सकेंगे. उन्होंने आगे कहा, "मैं आपसे पूछना चाहता हूं कि कश्मीर में धारा 370 को खत्म करके प्रधानमंत्री मोदी जी ने जो अधिकार पूरे देश को दिया है वो अच्छा कार्य हुआ है? प्रधानमंत्री मोदी जी का अभिनंदन करते हैं? तो फिर एक साथ बोलेंगे भारत माता की जय..."

सीएम योगी ने कहा  कि नए कृषि कानून से निजी क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा मिलेगा और किसानों को ज्यादा दाम मिलेगा. उन्होंने कहा, "एक निजी क्षेत्र में मंडी एक स्वस्थ्य प्रतिस्पर्धा को बढ़ाने के लिए किया जा रहा है, जिससे किसानों को ज्यादा दाम मिल सके. किसान अपनी उपज को मंडी के अलावा कहीं बाहर बेचना चाहेगा , तो उसे किसी प्रकार का कोई टैक्स नहीं लगेगा."


सिटी सेंटर: यूपी पुलिस पर लव-जिहाद का भूत?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com