कांग्रेस विधायकों से बोले CM गहलोत- कुछ दिन और रहना पड़ सकता है होटल में, कोई नहीं चाहता चुनाव

बैठक के बाद राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के मीडिया से बातचीत करने के कयास लगाए जा रहे थे. हालांकि, वह मीडिया से रूबरू हुए बिना ही होटल से निकल गए.

कांग्रेस विधायकों से बोले CM गहलोत-  कुछ दिन और रहना पड़ सकता है होटल में, कोई नहीं चाहता चुनाव

गहतोल की कांग्रेस विधायकों के साथ बैठक

जयपुर:

राजस्थान में मचे सियासी घमासान के बीच कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज जयपुर के फेयरमाउंट होटल में हुई. बैठक के दौरान सीएम अशोक गहलोत  ने विधायकों को संबोधित करते उनका धन्यवाद किया है. गहलोत ने कहा, "यह जो एपिसोड (घटनाक्रम) हुआ है पूरा देश इसे देख रहा है. आपको बहुत-बहुत धन्यवाद क्योंकि आपके बिना यह लड़ाई लड़ना संभव नहीं था. उन्होंने कहा कि कोई भी पार्टी नहीं चाहती ही चुनाव हो. 

मुख्यमंत्री गहलोत ने विधायक बैठक में कहा, "चट्टान की तरह तुम डटे रहो. कांग्रेस हो या भाजपा कोई नहीं चाहता चुनाव हो और विधानसभा भंग हो. उन्होंने कहा कि विधायकों को होटल फेयरमाउंट में कुछ दिन और रुकना पड़ सकता है.  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विधायकों को पूछा कि आपको कुछ दिन और रुकना होगा होटल में ही, इस पर सभी विधायकों ने समर्थन में हाथ खड़े किए.  सभी विधायकों ने कहा सत्य की जीत के लिए लड़ाई लड़ेंगे.

सीएम अशोक गहलोत ने दोपहर को तीन बजे मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई है. इस बीच, हाईकोर्ट ने कोर्ट ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद 24 जुलाई को फैसला सुनाने का निर्णय लिया है. तब तक विधानसभा स्पीकर सचिन पायलट और अन्य. 18 बागी विधायकों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करेंगे.  

बागी विधायकों की याचिका पर राजस्थान उच्च न्यायालय में सुनवाई चल रही है. ऐसे में गहलोत की ओर से बुलाई गई विधायकों की यह बैठक अहम मानी जा रही है. कयास लगाए जा रहे हैं कि गहलोत फ्लोर टेस्ट के रास्ते पर जा सकते हैं. पिछले दिनों कांग्रेस सूत्रों ने भी यह जानकारी दी थी कि यदि हाईकोर्ट में फैसला सचिन पायलट के पक्ष में आता है तो कांग्रेस विकल्प के रूप में विधानसभा का सत्र बुलाने की योजना बना रही है.   


राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जयपुर स्थित एक रिसॉर्ट में कांग्रेस विधायकों की तीसरी बैठक बुलाई थी. जहां वह अपने समर्थकों की निगरानी कर रहे हैं. इसी  होटल में गहलोत समर्थक विधायकों को रखा गया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 103 विधायकों के समर्थन के साथ खुद को सुरक्षित मानते हैं, जो कि 200-सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के आंकड़े से दो ज़्यादा है.

वीडियो: अशोक गहलोत के वार पर सचिन पायलट का जवाबी हमला

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com