राहुल गांधी और योगी आदित्यनाथ एक ही भावना रखते हैं : पिनाराई विजयन

1990 के दशक से किसान विरोधी नीतियों के लिए कांग्रेस को जिम्मेवार ठहराते हुए उन्होंने कहा कि, “भारत में किसानों को आत्महत्या के लिए प्रेरित किया गया. इसलिए राहुल गांधी को किसानों से माफी मांगनी चाहिए.”

राहुल गांधी और योगी आदित्यनाथ एक ही भावना रखते हैं : पिनाराई विजयन

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन (फाइल फोटो)

तिरुवनंतपुरम:

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन (Kerala CM Pinarayi Vijayan) ने गुरुवार को कांग्रेस नेता और वायनाड से सांसद राहुल गांधी (Congress Leader Rahul Gandhi) के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Uttar Pradesh CM Yogi Adityanath) पर जमकर निशाना साधा. पिनाराई विजयन ने कहा, " वायनाड के सांसद राहुल गांधी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ केरल के बारे में अलग-अलग दृष्टिकोण रख सकते हैं, लेकिन उनमें एक ही भावना है." मुख्यमंत्री ने कहा, "राहुल गांधी ने केरल में आकर कुछ असामान्य हस्तक्षेप किए. उन्होंने किसानों के लिए ट्रैक्टर चलाया, समुद्र में मछुआरों के लिए डुबकी लगाई लेकिन भारत के अन्य हिस्सों में विरोध प्रदर्शनों की अनदेखी की...वैसे राहुल गांधी बड़े दिल वाले हैं. उनकी प्रशंसा की जानी चाहिए.”

मछुआरों संग समंदर में राहुल गांधी ने लगाई डुबकी, पकड़ी मछलियां

1990 के दशक से किसान विरोधी नीतियों के लिए कांग्रेस को जिम्मेवार ठहराते हुए उन्होंने कहा कि, “भारत में किसानों को आत्महत्या के लिए प्रेरित किया गया. इसलिए राहुल गांधी को किसानों से माफी मांगनी चाहिए.” उन्होंने कहा, “कांग्रेस राज में लाखों किसानों का खून बह चुका है. कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी को किसानों से बिना शर्त माफी मांगनी चाहिए.” राहुल गांधी ने सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड में एक ट्रैक्टर रैली का नेतृत्व किया था और उसके बाद एक किसान सभा को संबोधित किया था. बाद में मंगलवार को तिरुवनंतपुरम में राहुल गांधी ने कई मुद्दों पर वामपंथी सरकार पर निशाना साधा था, जिसमें “युवाओं के लिए नौकरियों की कमी”, और "मछुआरों की आजीविका नष्ट हो रही है", जैसे अन्य मुद्दे शामिल थे.

वाम मोर्चे की सरकार ने कहा, “केरल के युवा सोच रहे हैं कि उन्हें नौकरी क्यों नहीं मिल सकती है? यह युवाओं के लिए शानदार और गतिशील राज्य है. इसलिए हम केरल राज्य को सही बनाएंगे. लेकिन मेरा सवाल है किसके लिए सही? केरल के लोगों के लिए एकदम सही? अगर हमारी पार्टी उनमें से एक है तो झंडा लेकर चलें. हर काम आपके लिए है.” पिनाराई विजयन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान योगी आदित्यनाथ पर भी निशाना साधा. जिन्होंने वर्तमान में केरल में भाजपा की राज्यव्यापी रैली का उद्घाटन किया था. इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि केरल हर चीज में पीछे है.

"मतदाताओं की समझ का करें सम्मान": राहुल गांधी के केरल में दिए गए बयान पर बोले कपिल सिब्बल

उन्होंने कहा था कि युवा विदेश जा रहे हैं क्योंकि उनके पास यहां नौकरियां नहीं हैं. केरल में 15 फीसदी प्रवासी श्रमिक उत्तर प्रदेश से हैं और उन्हें बीमा और अन्य लाभ दिए जाते हैं. योगी ने कहा था कि केरल सरकार लोगों को एक-दूसरे के खिलाफ लड़ाने का प्रयास कर रही है. विजयन ने कहा, “इन पांच वर्षों में केरल ने कोई सांप्रदायिक हिंसा नहीं देखी है. लेकिन उत्तर प्रदेश में क्या स्थिति है? हमने इसे देखा है. महिलाओं के खिलाफ अपराध उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक हैं.” उन्होंने कहा, केरल की जनसंख्या 3.5 करोड़ है. केरल में 1.10 करोड़ कोविड-19 परीक्षण किए गए हैं. लेकिन केरल की तुलना में उत्तर प्रदेश 6 गुना अधिक जनसंख्या वाला राज्य है. बावजूद कोविड परीक्षण में केरल 3 करोड़ को पार कर गया है. केरल का प्रति मिलियन परीक्षण उत्तर प्रदेश का दोगुना है. विजयन ने कहा कि केरल देश के लिए एक मिसाल है, क्योंकि यह मौतों को सीमित कर रहा है.

Video: राहुल गांधी ने मछुआरों के साथ लगाई समंदर में डुबकी


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com