अशोक गहलोत से मिलीं प्रियंका गांधी, चुनाव नतीजों से पहले राजनीतिक हलकों में तेज हुई विधायकों की घेराबंदी की चर्चा

सूत्रों के अनुसार प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने पांच राज्यों के चुनाव नतीजों को लेकर विधायकों की घेराबंदी और खरीद-फरोख्त पर सीएम गहलोत के साथ चर्चा की.

अशोक गहलोत से मिलीं प्रियंका गांधी, चुनाव नतीजों से पहले राजनीतिक हलकों में तेज हुई विधायकों की घेराबंदी की चर्चा

प्रियंका गांधी ने सीएम अशोक गहलोत से की मुलाकात

नई दिल्ली:

देशभर में पांच राज्यों के चुनाव अब पूरे हो चुके हैं. ऐसे में हर कोई 10 मार्च का इंतजार कर रहा है, जिस दिन विधनासभा चुनाव के नतीजे (Election Result) घोषित किए जाएंगे. लेकिन इसी के साथ राजनीतिक दलों की घेराबंदी का सिलसिला अभी से ही तेज हो चुका है. नतीजों के बाद बनने वाले राजनीतिक समीकरणों व विधायकों की खरीद-फरोख्त को रोकने के लिए तमाम दल अपनी कोशिशें करने में जुट गए हैं.

कांग्रेस पार्टी (Congress) की नेता प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) सोमवार को जयपुर (Jaipur) पहुंची. यहां प्रियंका गांधी ने राजस्थान के मुख्यमंत्री (Rajasthan CM) अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के साथ कुछ महत्वपूर्ण विषयों पर बातचीत की. प्रियंका गांधी के साथ राजीव शुक्ला भी नजर आए. कहा ये जा रहा है कि गहलोत के साथ बैठ कर प्रियंका गांधी ने भविष्य की राजनीति व समीकरणों पर विचार विमर्श किया. साथ ही इस बात के भी कयास लगाए जा रहे हैं कि इस चर्चा के दौरान यूपी में सपा के साथ गठबंधन की संभावना पर भी बात हुई.

इस मुलाकात के बारे में सूत्रों से मिली जानकारी से सामने आया है 5 विधानसभा चुनाव के नतीजों (5 Assembly Election Results) के मद्देनजर कांग्रेस (Congress) के पांच राज्यों के विधायक उम्मीदवारों को खरीद-फरोख्त के लिए कांग्रेस के आलाकमान की नजर में राजस्थान को सबसे सुरक्षित माना जा रहा है. राजस्थान (Rajasthan) में 2 से 3 राज्य के विधायक उम्मीदवारों को लाया जा सकता है.

ये भी पढ़ें: मुंबई पुलिस की महिला कर्मियों को मिली महिला दिवस की सौगात , आज से करनी होगी 8 घंटे की शिफ्ट

आपको बता दें कि इससे पूर्व भी गुजरात , मध्यप्रदेश व छत्तीसगढ़ व अन्य राज्य के विधायक उम्मीदवारों को राजस्थान लाया गया था. दरअसल सीएम गहलोत आलाकमान के सबसे भरोसेमंद माने जाते हैं और इस समय राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का पार्टी में अलग ही रसूख भी है. इसी को देखते हुए यह बड़ी जिम्मेदारी सीएम गहलोत को मिल सकती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: 14 साल में सबसे महंगा हुआ कच्चा तेल, 130 डॉलर के ऊपर पहुंचे दाम