बॉक्सिंग में 9 साल बाद मेडल दिलाने वाली लवलीना को PM मोदी ने दी बधाई, ऐसे की सराहना 

Lovlina Borgohain Wins Boxing Bronze: 23 वर्षीय लवलीना असम की रहने वाली हैं. वो नौ साल बाद बॉक्सिंग में भारत को मेडल दिलाने वाली खिलाड़ी बन गई हैं. उन्होंने सेमीफाइनल में चीनी ताइपे की नीन-चिन चेन (Nien-Chin Chen) को 4-1 से हराया था. 

बॉक्सिंग में 9 साल बाद मेडल दिलाने वाली लवलीना को PM मोदी ने दी बधाई, ऐसे की सराहना 

Lovlina Borgohain Wins Bronze Medal : पीएम नरेंद्र मोदी ने लवलीना बोरगोहेन से फोन पर बात भी की है और उन्हें बधाई दी है.

नई दिल्ली:

भारत की लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में महिला मुक्केबाजी की 69 किलोग्राम स्पर्धा में ब्रॉन्ज मेडल जीता है. ऐसा कर वह भारत की तीसरी बॉक्सर बन गईं हैं जिनके नाम ओलंपिक में मेडल जीतने का कमाल दर्ज है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी जात पर उन्हें बधाई दी है.

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, "@LovlinaBorgohai ने अच्छी तरह से लड़ा! बॉक्सिंग रिंग में उनकी सफलता कई भारतीयों को प्रेरित करती है. उनकी दृढ़ता और दृढ़ संकल्प सराहनीय है. कांस्य पदक जीतने पर उन्हें बधाई. उनके भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामनाएं." 

पीएम ने लवलीना बोरगोहेन से फोन पर बात भी की और कहा कि  उनकी जीत हमारी नारी शक्ति की प्रतिभा और तप का प्रमाण है. उन्होंने यह भी कहा कि उनकी सफलता हर भारतीय के लिए और विशेष रूप से असम और पूर्वोत्तर के लिए बहुत गर्व की बात है.

ब्रॉन्ज मेडल जीतकर लवलीना ने दोहराया इतिहास, ऐसा करने वाली केवल दूसरी भारतीय महिला बॉक्सर

लवलीना का मुकाबला तुर्की की मौजूदा विश्व चैंपियन बुसेनाज सुरमेनेली से था. उनके साथ लड़ते हुए लवलीना को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा है. इसके साथ ही लवलीना ओलंपिक में बॉक्सिंग में भारत को मेडल दिलानी वाली दूसरी महिला बॉक्सर बन गई हैं. लवलीना से पहले ऐसा कमाल सिर्फ मैरी कॉम ने किया था.


23 वर्षीय लवलीना असम की रहने वाली हैं. वो नौ साल बाद बॉक्सिंग में भारत को मेडल दिलाने वाली खिलाड़ी बन गई हैं. उन्होंने सेमीफाइनल में चीनी ताइपे की नीन-चिन चेन (Nien-Chin Chen) को 4-1 से हराया था. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com