रिकॉर्ड 1000 करोड़ रुपये से ज्यादा की नकदी और अन्य सामान विधानसभा चुनावों में अब तक जब्त

Election Commission ने कहा कि 16 अप्रैल तक 1001.44 करोड़ रुपये की नकदी, शराब और अन्य सामान असम, पुदुच्चेरी, केरल, पश्चिम बंगाल (West Bengal Assembly elections)औऱ तमिनाडु से जब्त किया गया है

रिकॉर्ड 1000 करोड़ रुपये से ज्यादा की नकदी और अन्य सामान विधानसभा चुनावों में अब तक जब्त

Assembly Electoral process अभी भी बंगाल में जारी है

नई दिल्ली:

चुनाव आय़ोग (Election Commission) ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में नकदी, शराब, दवा और उपहारों के तौर पर अब तक करीब एक हजार करोड़ (1,000 crore) रुपये का सामान जब्त किया है.  चुनाव आयोग ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि यह पहली बार है कि विधानसभा चुनाव (Assembly elections)की प्रक्रिया के दौरान इतने बड़े पैमाने पर नकदी और अन्य वस्तुएं जब्त की गई हैं. चुनाव आयोग ने कहा कि 16 अप्रैल तक 1001.44 करोड़ रुपये की नकदी, शराब और अन्य सामान असम, पुदुच्चेरी, केरल, पश्चिम बंगाल (West Bengal Assembly elections)औऱ तमिनाडु से जब्त किया गया है.

यह 2016 के विधानसभा चुनाव के मुकाबले कहीं ज्यादा है, जब 225.77 करोड़ रुपये का सामान और नकदी पकड़े गए थे.बयान के मुताबिक, चुनाव आयोग ने कई स्तर पर बेहद गहन स्तर पर समीक्षा और व्यापक इंतजाम किए. इसमें राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की पुलिस और प्रवर्तन एजेंसियों को भी शामिल किया.

सबसे ज्यादा 446.28 करोड़ रुपये की नकदी, शराब और अन्य सामा की बरामदगी तमिलनाडु से हुई है. पश्चिम बंगाल में यह आंकड़ा करीब 300 करोड़ रुपये के करीब रहा है. गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में भी चार चरणों का चुनाव बाकी है. ऐसे में यह रकम और ज्यादा बढ़ सकती है. असम, तमिलनाडु, केरल और पुदुच्चेरी में विधानसभा चुनाव का मतदान हो चुका है. सभी राज्यों में मतदान 2 मई को होगा.


आयोग का कहना है कि प्रभावी ढंग से निगरानी के लिए  असम, बंगाल, तमिलनाडु और अन्य राज्यों में विशेष व्यय पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की गई थी. ऐसे मामलों के विशेषज्ञ अधिकारियों ने इन राज्यों में जाकर स्थानीय एजेंसियों के साथ तालमेल बिठाया था. पुलिस, आयकर, आबकारी, एनसीबी, डीआरआई और आरपीएफ का सहयोग इसमें लिया गया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com