नवाब मलिक ने NCB पर फिर साधा निशाना, बोले- 'शाहरुख के घर पब्लिसिटी और डर पैदा करने गए'

एनडीटीवी से बातचीत करते हुए नवाब मलिक ने कहा कि सुबह सारे चैनलों को बताया गया कि शाहरुख खान के घर में छापा पड़ने वाला है. बाद में ये कहा गया कि हम कुछ कागजो पर कार्रवाई करने गए थे. अगर यही करना था तो मीडिया को खबर क्यों दी?

मुंबई:

महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) लगातार एनसीबी (NCB) पर निशाना साधते आ रहे हैं. गुरुवार को शाहरुख खान (Shahrukh Khan) के घर एनसीबी टीम के पहुंचने पर एक बार फिर उन्होंने सवाल उठाए हैं. एनडीटीवी से बातचीत करते हुए नवाब मलिक ने कहा कि सुबह सारे चैनलों को बताया गया कि शाहरुख खान के घर में छापा पड़ने वाला है. जिसके बाद सब चैनल वहां पहुंच गए और खबरें चलने लग गईं. बाद में ये कहा गया कि हम कुछ कागजों पर कार्रवाई करने गए थे. अगर यही करना था तो मीडिया को खबर क्यों दी? क्यों खामोशी से कागज़ी कार्रवाई नहीं हुई.

कोविड काल में मालदीव में थे समीर वानखेड़े, वहीं बॉलीवुड सेलेब्स से उगाही की गई : नवाब मलिक

उन्होंने आरोप लगाया कि ये सब पब्लिसिटी और दबाव बनाने के लिए है. एनसीबी के अधिकारी फर्जीवाड़ा कर रहे हैं. कोविड-19 के दौरान पूरी फिल्म इंडस्ट्री मालदीव गई थी. इनके परिवार के लोग भी मालदीव गए, दुबई भी गए. क्यों मालदीव गए, जब पूरी फिल्म इंजस्ट्री वहां थी. शायद उगाही की डील करने के लिए ये मालदीव गए थे. 
बहुत इमानदार अफसर हैं तो इनका मोबाइल कॉल डीटेल निकाला जाए, चैट निकाला जाए. सब फर्जीवाडा इनके मोबाइल के अंदर है. आज नहीं तो कल सारी बातें निकलेंगी. महाराष्ट्र की सरकार को बदनाम करने के लिए एक साल से एनसीबी और बीजेपी का सारा खेल चल रहा है. केन्द्रीय एजेंसियों को दुरुपयोग हो रहा है. आपको लगता है ये डर जाएंगे. 


मलिक ने कहा कि इनकम टैक्स की अगर कोई चोरी करता है तो उसे नोटिस दीजिए, वो जवाब दे देगा. लेकिन जिस तरह से प्रेस नोट निकाला गया कि महाराष्ट्र के एक पावरफुल परिवार के यहां हमने छपेमारी की है, ये किस तरह की भाषा का इस्तेमाल इनकम टैक्स विभाग ने किया है. जो खेल बंगाल में था वो महाराष्ट्र में भी खेला जा रहा है. लोगों पर दबाव बनाया जाए, सरकार को बदनाम किया जाए और लोग हमारे साथ आ जाएंगे.

'मेरे परिवार को बदनाम किया जा रहा, वे मंत्री हैं जांच करा लें' : नवाब मलिक के आरोपों पर NCB के समीर वानखेड़े

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने आगे कहा कि हर्षवर्धन पाटिल ने बयान दिया था कि मुझे नींद आती है. डीजीपी को समझना पड़ेगा कि हमें तुमसे डर नहीं लगता. सुशांत सिंह राजपूत के मामले में बिहार में केस दाखिल किया गया. वहीं से पुलिस आई जो स्मगलरों की गाड़ियों में घूम रही थी. बिहार सरकार ने फैसला कर लिया कि सीबीआई को केस सौंप दिया जाए. उसी बीच में वानखेडे को लाया गया और रिया को फंसाया गया. ड्रग का मामला बनाकर बीजेपी कहती रही कि बॉलीवुड ड्रग का अड्डा बन गया है. हमने आवाज उठाई तो हमारे घर वालों को जेल में डाल दिया. वानखेड़े साल भर के अंदर जेल जाएंगे.  यहां पर दहशत फैलाई हुई है. डरा के लोगों से उगाही की जाती है, तो उगाही का भी मामला है. उगाही चल रही है.