पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी ने बीजेपी को बताया ''गैस का गुब्‍बारा'' और ''वॉशिंग मशीन''

ममता बनर्जी ने कहा, ''''डकैतों ने अचानक बहुत पैसा जमा कर लिया है. अब वे बीजेपी नामक वाशिंग मशीन के पास जा रहे हैं, जहां वे कालाधन डालकर सफेद धन निकाल सकें.

पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी ने बीजेपी को बताया ''गैस का गुब्‍बारा'' और ''वॉशिंग मशीन''

ममता बनर्जी ने कहा, भाजपा गैस का गुब्बारा है, जो केवल मीडिया में ही जिंदा है

खास बातें

  • कहा, बीजेपी गैस का गुब्‍बारा जो मीडिया में ही जिंदा है
  • दागियों के लिए वाशिंग मशीन की तरह है बीजेपी
  • दागियों ने पैसा इकट्ठा किया अब बीजेपी नाम की वाशिंग मशीन के पास जा रहे
कोलकाता:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी  (BJP) पर निशाना साधते हुए कहा कि वह ''गैस का गुब्बारा'' है, जो केवल मीडिया में ही जिंदा है''और यह दागियों के लिये ''वाशिंग मशीन'' भी है. बनर्जी ने कहा कि टीएमसी छोड़ भाजपा में जाने वालों ने ऐसा इसलिये किया ताकि उन्होंने जो पैसा जमा किया है, उसे सुरक्षित रखा जा सके. टीएमसी प्रमुख बनर्जी ने नेताजी इंडोर स्टेडियम में आयोजित अखिल भारतीय उचित दर दुकान डीलर संघ के राज्य स्तरीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ''चिंता की कोई बात नहीं है. ''मां, माटी और मानुष'' सरकार (टीएमसी का नारा) राज्य की सत्ता में बरकरार रहेगी...भाजपा गैस का गुब्बारा है, जो केवल मीडिया में ही जिंदा है. उनके पास पैसा है और सड़कों पर (पार्टी के) झंडे लगाने के लिये एजेंसियों का इस्तेमाल कर रहे हैं.''

उन्होंने कहा, ''उन्हें ऐसा करने और मीडिया में जिंदा रहने दीजिये. टीएमसी आपके दिलों में जिंदा रहेगी. आप मुझे आश्वस्त कीजिये, मैं आपका (अच्छा) भविष्य सुनिश्चित करूंगी.'' सीएम ममता बनर्जी ने कहा, ''''डकैतों ने अचानक बहुत पैसा जमा कर लिया है. अब वे बीजेपी नामक वाशिंग मशीन के पास जा रहे हैं, जहां वे कालाधन डालकर सफेद धन निकाल सकें. वे केवल पैसे के लिये वहां जा रहे हैं और किसी वजह से नहीं. मैं उन्हें चुनाव लड़ने के लिये टिकट नहीं देने वाली थी. मैं उन लोगों को टिकट क्यों दूं, जिन्होंने खराब काम किया है. लोगों को खुशी होगी जब मैं उनकी बजाय नए लोगों को टिकट दूंगी.''

इस दौरान ममता ने राशन डीलर लाइसेंस की नियमित एक वर्ष की अवधि को बढ़ाकर तीन वर्ष करने की घोषणा की.
उन्होंने कहा कि सरकार किसी राशन डीलर की मौत होने की सूरत में उसके परिवार को दो लाख रुपये का मुआवजा प्रदान करेगी.बनर्जी ने नई राशन डीलरशिप के लिये लाइसेंस खरीदने के आवेदन शुल्क को पांच लाख रुपये से कम कर दो लाख रुपये करने की भी घोषणा की.


तृणमूल के 5 नेताओं को अपने पाले में लाने के बाद बीजेपी ने हावड़ा में दिखाई ताकत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)