महाराष्ट्र सरकार ने देवेंद्र फडणवीस, राज ठाकरे समेत कई विपक्षी नेताओं की सुरक्षा कम की, BJP भड़की

बीजेपी की महाराष्ट्र इकाई के प्रमुख चंद्रकांत पाटिल की सुरक्षा हटा दी गई है. महाराष्ट्र बीजेपी प्रवक्ता केशव उपाध्याय ने इसे बदले की राजनीति बताया है.

मुंबई:

महाराष्ट्र सरकार ने विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadanavis) और उनके परिवार, उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल राम नाइक, मनसे प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackrey) की सुरक्षा में कटौती कर दी है. BJP की महाराष्ट्र इकाई के प्रमुख चंद्रकांत पाटिल की सुरक्षा हटा दी गई है. महाराष्ट्र बीजेपी प्रवक्ता केशव उपाध्याय ने इसे बदले की राजनीति बताया है.

फडणवीस ने कहा कि इससे महाराष्ट्र में यात्रा करने और जनता से मिलने की योजना पर असर नहीं पड़ेगा. 8 जनवरी को जारी अधिसूचना के अनुसार फडणवीस को अब ‘Z-Plus' श्रेणी के बजाय एस्कॉर्ट के साथ वाई-प्लस श्रेणी की सुरक्षा मिलेगी. उनकी पत्नी अमृता फडणवीस और बेटी दिविजा की सुरक्षा भी घटा दी गई है.यूपी के पूर्व राज्यपाल राम नाइक को ‘वाई-प्लस' की जगह ‘वाई' श्रेणी की सुरक्षा मिलेगी.


नारायण राणे, चंद्रकांत पाटिल जैसे नेताओं की सुरक्षा वापस
मनसे प्रमुख की सुरक्षा ‘जेड' श्रेणी से घटा कर ‘एस्कॉर्ट के साथ वाई प्लस' श्रेणी की गई है. बीजेपी नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे, बीजेपी प्रमुख चंद्रकांत पाटिल और पार्टी के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंटीवार की सुरक्षा वापस ले लिए गई है. राणे के पास ‘वाई-प्लस' श्रेणी की सुरक्षा थी.राज्य लोकायुक्त एम एल तहिलियानी की सुरक्षा ‘जेड' श्रेणी से घटाकर ‘वाई' श्रेणी की कर दी गई है.सरकार ने 2 लोगों की सुरक्षा बढ़ाई है, 11 की सुरक्षा कम की है, 16 लोगों की सुरक्षा वापस ली गई है, वहीं 13 नए लोगों को सुरक्षा दी गई है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सत्ताधारी दल के कई नेताओं को मिली सुरक्षा
सुरक्षा प्राप्त करने के लिए नए नेताओं में उपमुख्यमंत्री अजीत पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार और युवा सेना के सचिव वरुण सरदेसाई शामिल हैं. सरदेसाई मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे के रिश्तेदार हैं.
दोनों को ‘एक्स' श्रेणी की सुरक्षा दी गई है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)