महाराष्ट्र: ठाणे के एक अस्पताल में लगी आग, 4 मरीजों की मौत

बाकी मरीजों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मृतकों के परिवार को 5 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है. 

खास बातें

  • महाराष्ट्र के ठाणे के अस्पताल में लगी आग
  • अस्पताल में भर्ती चार मरीजों की मौत
  • आग के कारणों का पता लगाने के लिए कमेटी गठित
मुंबई:

महाराष्ट्र इन दिनों कोरोनावायरस (Coronavirus) के भीषण संकट से जूझ रहा है. इस बीच, राज्य के ठाणे जिले के एक अस्पताल में मंगलवार देर रात आग लगने की घटना सामने आई. इस हादसे में चार मरीजों की मौत हो गई है. मुम्ब्रा के प्राइम क्रिटिकेअर अस्पताल में रात करीब 3 बजे आग लग गई. घटना के वक्त अस्पताल में 20 के करीब मरीजों का इलाज चल रहा था. बाकी मरीजों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया है. इस दौरान चार मरीजों ने दम तोड़ दिया.

बताया जा रहा है कि तीन फायर इंजन और 2 वाटर टैंकर की मदद से अस्पताल में लगी आग पर काबू पा लिया गया है. मौके पर महाराष्ट्र सरकार के मंत्री और विधायक जितेंद्र आव्हाड पहुंचे. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मृतकों के परिवार को 5 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है. घायलों को एक लाख रुपये की मदद दी जाएगी. हादसे के जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

एक अधिकारी ने बताया कि अस्पताल से 20 मरीजों को बाहर निकाला गया है, जिसमें से 6 मरीज आईसीयू में भर्ती थे. आग की वजह से अस्पताल की पहली मंजिल तबाह हो गई है. उन्होंने कहा कि अस्पताल में कोई भी कोरोना मरीज एडमिट नहीं था. आईसीयू में भर्ती मरीजों को बिलाल अस्पताल में दाखिल कराया गया है जबकि अन्य मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया है.

मंत्री ने कहा कि आग के कारणों की जांच के लिए एक उच्चस्तरीय जांच समिति का गठन किया गया है. इस कमेटी में नगर निगम के अधिकारी, पुलिस अधिकारी और चिकित्सा अधिकारी शामिल हैं.


बता दें कि कुछ दिन पहले ठाणे के करीब 50 किलोमीटर दूर विरार एक अस्पताल में आग लग गई थी. इसमें 14 कोरोना मरीजों की मौत हो गई थी, जो कि आईसीयू में भर्ती थे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: विरार के कोविड अस्पताल में आग, 14 की मौत