मध्य प्रदेश: पति की कोरोना संक्रमण से हुई मौत तो सदमे में महिला प्रोफेसर ने की खुदकुशी

शहर के एक निजी कॉलेज में प्रोफेसर थीं, जबकि महामारी के शिकार उनके पति का वन विभाग के डिप्टी रेंजर पद पर चयन हो चुका था.

मध्य प्रदेश: पति की कोरोना संक्रमण से हुई मौत तो सदमे में महिला प्रोफेसर ने की खुदकुशी

प्रतीकात्मक तस्वीर.

इंदौर:

कोविड-19 (Covid-19) से पति की मौत के सदमे में बुधवार को यहां 34 वर्षीय प्रोफेसर ने कथित तौर पर फांसी लगाकर जान दे दी. राजेंद्र नगर पुलिस थाने के सहायक उप निरीक्षक (एएसआई) कुंदनमल रैगर ने बताया कि बिजलपुर क्षेत्र में रहने वाले पवन पंवार (35) की यहां एक निजी अस्पताल में कोरोना वायरस संक्रमण के इलाज के दौरान बुधवार सुबह मौत हो गई. वह 19 अप्रैल से अस्पताल में भर्ती थे. उन्होंने बताया, "पंवार की पत्नी नेहा (34) को जब पति की मौत की जानकारी मिली, तो वह सदमे में अस्पताल से सीधे घर आईं और अपने गले पर दुपट्टा बांधकर पंखे से लटकते हुए फांसी लगा ली."

मध्‍य प्रदेश: मां की कोरोना संक्रमण से हुई मौत से दुखी युवती ने बिल्डिंग से कूदकर की खुदकुशी

एएसआई ने बताया कि नेहा, शहर के एक निजी कॉलेज में प्रोफेसर थीं, जबकि महामारी के शिकार उनके पति का वन विभाग के डिप्टी रेंजर पद पर चयन हो चुका था. हालांकि, महामारी के प्रकोप के कारण वन विभाग में उनका प्रशिक्षण सत्र रद्द हो गया था और वह इस पद को विधिवत संभाल नहीं सके थे.  उन्होंने बताया कि महिला प्रोफेसर की कथित खुदकुशी के मामले की विस्तृत जांच की जा रही है.

हाल ही में मध्‍य प्रदेश के रायसेन जिले के मंडीदीप में 23 वर्ष की युवती को जैसे ही पता चला कि उसकी मां अब इस दुनिया में नहीं रही तो उसने खुद का जीवन खत्म करने का निर्णय ले लिया. कोरोना संक्रमण के चलते इस युवती की मां की मौत हुई थी. परिजनों के विरोध के बावजूद युवती मल्टी की पांचवी मंजिल की बालकनी से नीचे कूदने के लिए लटक गई. घर की महिलाएं कुछ देर युवती को नीचे गिरने से बचाने के लिए संघर्ष करती रहीं लेकिन उनकी कोशिश नाकाम हुई. इन महिलाओं से युवती का हाथ छूट गया और वह जमीन पर आ गिरी.

दिल्ली : अपने ही दो बच्चों की हत्या की कोशिश के बाद कांस्टेबल की पत्नी ने की खुदकुशी


परिजन गंभीर अवस्था मे युवती को अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. यह मामला मंडीदीप के वार्ड 24 कोलार रोड स्थित हिमांशु कॉलोनी की मल्टी का है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(अगर आपको सहायता की ज़रूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं, जिसे मदद की दरकार है, तो कृपया अपने नज़दीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं)

हेल्‍पलाइन :
1) वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ - 1860-2662-345 अथवा help@vandrevalafoundation.com
2) TISS iCall - 022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध - सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)