मध्य प्रदेश : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बड़वानी जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र से लगी सीमा को किया सील

बड़वानी के कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा ने सोमवार को बताया, ‘‘बड़वानी जिले से सटे हुए महाराष्ट्र में कोराना वायरस संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामलों के मद्देनजर मैंने महाराष्ट्र से सटे हुए सीमावर्ती ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने वाले सभी रास्तों को तत्काल बंद करने के आदेश संबंधित सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) को दिए हैं.’’

मध्य प्रदेश : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बड़वानी जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र से लगी सीमा को किया सील

प्रतीकात्मक तस्वीर

बड़वानी (मध्यप्रदेश):

महाराष्ट्र में कोराना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामलों के मद्देनजर बड़वानी (Barwani) जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र से सटे हुए सीमावर्ती ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने वाले सभी रास्ते सोमवार से बंद कर दिए हैं. एक अधिकारी ने कहा कि हालांकि, दो मुख्य मार्गों से महाराष्ट्र से मध्य प्रदेश के बड़वानी में यात्री बसों के अलावा अन्य वाहनों का आना-जाना जारी रहेगा. बड़वानी के कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा ने सोमवार को बताया, ‘‘बड़वानी जिले से सटे हुए महाराष्ट्र में कोराना वायरस संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामलों के मद्देनजर मैंने महाराष्ट्र से सटे हुए सीमावर्ती ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने वाले सभी रास्तों को तत्काल बंद करने के आदेश संबंधित सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) को दिए हैं.'' उन्होंने कहा, ‘‘पुलिस और अन्य विभागों की मदद से बैरिकेड के माध्यम से रास्ता बंद कर महाराष्ट्र से आने-जाने वालों पर रोक लगा दी गई है.'' वर्मा ने बताया कि खेतिया से वरला-बलवाड़ी गांवों तक लगभग 150 से 200 किलोमीटर तक का बड़वानी जिले का क्षेत्र महाराष्ट्र सीमा से सटा हुआ है, जिसको देखते हुए जिला प्रशासन ने एहतियातन यह कदम उठाया है.

महाराष्ट्र में कोरोना के नियमों का सख्ती से पालन नहीं हो रहा, लॉकडाउन की करें तैयारी : उद्धव ठाकरे

उन्होंने कहा, ‘‘वहीं, सेंधवा बिजासन वाले मुंबई-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग-3 और खेतिया मार्ग सिर्फ यही दो रास्तों से वाहनों का आना-जाना जारी रहेगा.'' वर्मा ने बताया कि इन दोनों रास्तों से महाराष्ट्र से आने वाले लोगों की जिले में 10 स्थानों पर थर्मल स्क्रीनिंग करने के बंदोबस्त किये गये हैं और यदि किसी व्यक्ति के शरीर में अधिक तापमान पाया जाएगा, तो उसे घर में पृथक-वास में रखा जाएगा.

वर्मा ने बताया कि इससे पूर्व राज्य शासन के द्वारा जारी किए गए आदेश में महाराष्ट्र से आने और जाने वाली यात्री बसों के आवागमन पर रोक लगाई जा चुकी है. इसी बीच, बलवाड़ी गांव के निवासी अभय बिहानी ने कहा कि मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले के वरला एवं बलवाड़ी में ग्रामीणों ने बैठक कर आज सोमवार से पांच दिन का स्वैच्छिक लॉकडाउन का निर्णय लिया है. ये दोनों गांव महाराष्ट्र से सटे हुए हैं और महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए ग्रामीणों ने यह कदम उठाया है.


उन्होंने कहा कि पांच दिन के इस स्वैच्छिक लॉकडाउन में बुधवार को सिर्फ दो घंटे किराना दुकानें खुलेंगी. बाकी दिन शुक्रवार तक पूर्ण लॉकडाउन रहेगा. बड़वानी में रविवार को कोरोना संक्रमण के 35 नए मामले दर्ज किये गये हैं. इन्हें मिलाकर वहां अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 3,291 मामले सामने आए चुके हैं, जिनमें से 31 लोगों की मौत हो चुकी है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बनारस में पीपीई किट पहनकर लोगों को संदेश देता शख्स



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)