टेस्ला की 'ऑटो पायलट' टीम के पहले कर्मचारी थे भारतीय मूल के अशोक एल्लुस्वामी: एलन मस्क

सोशल मीडिया के माध्यम से भर्ती करने वाले टेस्ला (Tesla) के संस्थापक और सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) ने खुलासा किया है कि उनकी इलेक्ट्रिक वाहन कंपनी की 'ऑटो पायलट' टीम के सबसे पहले कर्मचारी भारतीय मूल के अशोक एल्लुस्वामी (Ashok Elluswamy) थे

टेस्ला की 'ऑटो पायलट' टीम के पहले कर्मचारी थे भारतीय मूल के अशोक एल्लुस्वामी: एलन मस्क

फोर्ब्स पत्रिका के अनुसार टेस्ला के संस्थापक एलन मस्क दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं.

ह्यूस्टन (अमेरिका):

सोशल मीडिया के माध्यम से भर्ती करने वाले टेस्ला (Tesla) के संस्थापक और सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) ने खुलासा किया है कि उनकी इलेक्ट्रिक वाहन कंपनी की 'ऑटो पायलट' टीम के सबसे पहले कर्मचारी भारतीय मूल के अशोक एल्लुस्वामी (Ashok Elluswamy) थे. अपने साक्षात्कार से जुड़े एक वीडियो को लेकर जवाब देते हुए मस्क ने ट्वीट कर कहा, ''अशोक पहले ऐसे व्यक्ति थे जो मेरे ट्वीट के जरिये भर्ती किए गए और इसके साथ ही मैंने कहा कि टेस्ला एक ऑटो पायलट टीम की शुरुआत कर रही है.''  उन्होंने कहा कि असल में, अशोक ऑटो पायलट इंजीनियरिंग के प्रमुख हैं. मस्क ने कहा, '' टेस्ला की ऑटो पायलट टीम बेहद कुशल है. इसमें दुनिया के कुछ सबसे कुशल लोग शामिल हैं.''

Tesla लाखों कारें रिकॉल करेगी, सेफ्टी से जुड़े मुद्दे हैं कारण

टेस्ला में शामिल होने से पहले अशोक फॉक्सवैगन की इलेक्ट्रॉनिक अनुसंधान प्रयोगशाला से जुड़े हुए थे. वह चेन्नई के एक इंजीनियरिंग कॉलेज से 'इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग' में स्नातक हैं.

Elon Musk ने बताया कौन हो सकता है Bitcoin बनाने वाला शख्स

अशोक ने पेनस्लिवेनिया स्थित कारनेगी मेलोन विश्वविद्यालय से 'रोबोटिक सिस्टम डेवलेपमेंट' में परास्नातक की डिग्री हासिल की है. फोर्ब्स पत्रिका के अनुसार, इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला के संस्थापक एलन मस्क दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कौन है यह शख्स जो इस साल चुकाएगा 84,000 करोड़ का टैक्स, बता रहे हैं शरद शर्मा