कोरोना टीकाकरण के लिए हिमाचल प्रदेश तैयार, वैक्‍सीन की खेप मिली : CM जयराम ठाकुर

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा, 'पूरा हिमाचल इस वैक्सीन का बेसब्री से इंतज़ार कर रहा था. 93,000 डोज़ मिल गई हैं. हम बहुत सावधानी के साथ काम कर रहे हैं .

नई दिल्ली:

Corona Vaccination: कोरोना के खिलाफ देशभर में टीकाकरण अभियान शनिवार, 16 जनवरी से प्रारंभ हो रहा है. देश के सभी राज्‍यों और यूटी में वैक्‍सीन (Covid-19 Vaccine)की खेप पहुंच गई है. पहाड़ी प्रदेश हिमाचल (Himachal Pradesh) के सीएम जयराम ठाकुर (Jai Ram Thakur) ने NDTV से चर्चा में बताया  कि जो वैक्सीन बनकर आई है वे हिमाचल में हमको उपलब्‍ध हो गई हैं. सीएम ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से लगातार तैयारी के लिए काम किया है. स्टेट लेवल और डिस्ट्रिक्ट लेवल पर ड्राई रन हुआ. वैक्सीन के लिए तैयारी पूरी हो गई है.कल सुबह 10:30 के बाद वैक्सीनेशन का काम शुरू हो जाएगा.

"कोविशील्ड की प्रभावशीलता ज्यादा होगी अगर खुराक में अंतराल 28 दिन से ज्यादा हो''

सीएम ने कहा, 'पूरा हिमाचल इस वैक्सीन का बेसब्री से इंतज़ार कर रहा था. 93,000 डोज़ मिल गई हैं. हम बहुत सावधानी के साथ काम कर रहे हैं.स्कूल कॉलेज खुलने चाहिए. अब स्कूल का शेड्यूल हमने जारी किया है. कोरोना के साथ आदत डालनी होगी. कोरोरा के कारण बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हुई है. जयराम ठाकुर ने बताया कि हमारी बस चल पड़ी हैं.हमने बसों को संचालित करन के लिए कह दिया है. राज्‍य के पर्यटन उद्योग के बारे में चर्चा करते हुए उन्‍होंने कहा, 'पहले टूरिस्ट सीज़न जो रहता था हम लगभग वहीं पहुंचने की स्थिति में हैं.'


'कोरोना वायरस महामारी के दौरान भारत ने उठाए निर्णायक कदम', IMF चीफ ने की सराहना

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल में कोरोना के मामलों में गिरावट आई है.गर्मी का सीज़न बहुत अच्छा रहेगा. लोग टनल देखने बड़ी संख्या में आ रहे हैं. गर्मी में और भी आएंगे. विदेशियों के लिए भारत सरकार के कोविड प्रोटोकॉल को ही फ़ॉलो कर रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि कोरोना के मामले सब जगह से आए हैं. हिमाचल में बहुत कम घटनाए हैं जो टूरिस्ट कोई पॉज़िटिव आया हो. सोशल गैदरिंग पर जब रोक हटी थी तब मामले बढ़े थे. शादियों के सीज़न में मामले बढ़े थे लेकिन टूरिस्ट के कारण ऐसी स्थिति कभी नहीं बनी. कोविड के आने टूरिस्ट इंडस्ट्री पर असर पड़ा था. अब हम चाहते हैं जल्दी से टूरिस्ट आएं और हमारे रोज़गार में बढ़ोतरी हो.