VIDEO : दिल्ली में टूटा 46 साल पुराना बारिश का रिकॉर्ड, थमी रफ्तार: सड़कें लबालब, उड़ानें बाधित

साल 1975 के बाद यह पहली बार है जब दिल्ली में मानसून की बारिश ने 1,000 मिमी के निशान को पार किया है.  मौसम विभाग ने शनिवार को दिल्ली, उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश और तेज हवाओं के साथ गरज के साथ बौछारें पड़ने की भविष्यवाणी की है.

VIDEO : दिल्ली में टूटा 46 साल पुराना बारिश का रिकॉर्ड, थमी रफ्तार: सड़कें लबालब, उड़ानें बाधित

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आज सुबह मध्यम से भारी बारिश हुई, जिससे शहर में पारा नीचे आ गया.

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आज सुबह मध्यम से भारी बारिश हुई, जिससे शहर में पारा नीचे आ गया लेकिन लगातार बारिश के बाद शहर के कई हिस्सों में जलजमाव हो गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में इस साल मॉनसून की बारिश शुक्रवार को 1,000 मिमी के निशान को पार कर गई, जो 46 साल में सबसे ज्यादा बारिश है.

साल 1975 के बाद यह पहली बार है जब दिल्ली में मानसून की बारिश ने 1,000 मिमी के निशान को पार किया है.  मौसम विभाग ने शनिवार को दिल्ली, उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश और तेज हवाओं के साथ गरज के साथ बौछारें पड़ने की भविष्यवाणी की है.

भारी बारिश का असर आवागमन पर पड़ा है. दिल्ली और आसपास के कई इलाकों में जहां सड़कें जलमग्न हैं, वहीं नई दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रनवे पर पानी भर गया है. इससे उड़ानों पर असर पड़ा है.

#WATCH | Parts of Delhi Airport waterlogged following heavy rainfall in the national capital; visuals from Indira Gandhi International Airport (Terminal 3) pic.twitter.com/DIfUn8tMei

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने अपने 7:55 बजे बुलेटिन में कहा, "दिल्ली, एनसीआर (उत्तर प्रदेश के बहादुरगढ़, गुरुग्राम, मानेसर, फरीदाबाद, बल्लभगढ़, लोनी देहात, हिंडन एयरफोर्स स्टेशन, गाजियाबाद, इंदिरापुरम, छपरौला, नोएडा, दादरी, ग्रेटर नोएडा, शामली, कांधला, बड़ौत, बागपत, मेरठ, स्याना, हापुड़, पहासू, बुलंदशहर) के कई स्थानों पर और आसपास के क्षेत्रों में मध्यम से भारी तीव्रता वाली बारिश और तेज हवाएं चलती रहेंगी."

#WATCH | Buses stuck amid waterlogged roads following heavy rains in the National Captial; visuals from Madhu Vihar area. pic.twitter.com/3TyZJWxAix

IMD के  मुताबिक हरियाणा के कैथल, करनाल, राजौंद, असंध, सफीदों, पानीपत, गोहाना, गन्नौर, सोनीपत, खरखोदा, जींद, रोहतक, हांसी, महम, भिवानी, झज्जर, नारनौल में भी अगले 2 घंटों के दौरान भारी बारिश हो सकती है.

4ap4vtro

आईएमडी ने अपने सुबह के ट्वीट में अगले 12 घंटों के दौरान दिल्ली में कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की भविष्यवाणी की थी. आईएमडी ने ट्वीट किया, "अगले 12 घंटों के दौरान दिल्ली के कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश (2 सेमी तक) होने की संभावना है. अगले 12 घंटों के दौरान दिल्ली के अलग-अलग स्थानों पर मध्यम वर्षा (3-5 सेमी) की भी संभावना है."

11/09/2021: 05:50 IST; Thunderstorm with moderate to heavy intensity rain and winds with speed of 20-40 Km/h would occur over and adjoining areas of many places of Delhi ( ), NCR ( Bahadurgarh, Gurugram, Manesar, Faridabad, Ballabhgarh, Loni Dehat, Hindon AF Station, Ghaziabad,


मौसम विभाग ने आज के लिए 'ऑरेंज अलर्ट' जारी किया था. 2010 के बाद यह पहली बार है जब दिल्ली में मानसून की बारिश ने 1,000 मिमी के निशान को पार किया, जो राष्ट्रीय राजधानी में 11 वर्षों में सबसे अधिक वर्षा है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिल्ली में पिछले 24 घंटों में अब तक 97 मिमी बारिश हो चुकी है. इस महीने की शुरुआत में लगातार दो दिन 100 मिलीमीटर से अधिक की बारिश दर्ज की गयी थी. एक सितंबर को 112.1 मिलीमीटर और दो सितंबर को 117.7 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गयी थी. जुलाई 2003 के बाद से एक महीने में हुई यह सबसे अधिक बारिश है. इस तरह से दिल्ली में बारिश का 18 साल पुराना रिकॉर्ड टूट गया है.