हरिद्वार महाकुंभ: आखिरी शाही स्नान पर कोरोना का 'ग्रहण', सीमित संख्या में श्रद्धालुओं ने लगाई गंगा में डुबकी 

मेलाधिकारी दीपक रावत ने कहा कि शाही स्नान के दौरान उत्तराखंड सरकार की गाइडलाइंस को पूरी तरह ध्यान में रखते हुए कुंभ की सभी परंपराओं का पालन भी किया जा रहा है.

हरिद्वार महाकुंभ: आखिरी शाही स्नान पर कोरोना का 'ग्रहण', सीमित संख्या में श्रद्धालुओं ने लगाई गंगा में डुबकी 

अखाड़ों से साधु-संत सीमित संख्या में स्नान के लिए आ रहे हैं

हरिद्वार:

कोरोना के मामलों में उछाल के बीच हरिद्वार में आज हो रहे महाकुंभ (Mahakumbh 2021) के अंतिम शाही स्नान पर कोरोना का कहर देखने को मिला. चैत्र पूर्णिमा का शाही स्नान करने कम संख्या में साधु–संत और श्रद्धालु पहुंचे. साधु-संत तथा श्रद्धालु विधि-विधान के साथ गंगा स्नान कर रहे हैं. यह हरिद्वार महाकुंभ 2021 का आखिरी शाही स्नान है. श्रद्धालु गंगा स्नान करने के बाद घाट पर स्थित मंदिरों में पूजा अर्चना कर पुण्य की कामना मां गंगा और अपने आराध्य देवी देवताओं से कर रहे हैं. श्रद्धालु भगवान से कोरोना महामारी के खात्मे की भी प्रार्थना कर रहे हैं. जिससे लोगों का जीवन सुरक्षित, स्वस्थ और सुखमय बन सके. 

मेलाधिकारी दीपक रावत ने कहा कि शाही स्नान के दौरान उत्तराखंड सरकार की गाइडलाइंस को पूरी तरह ध्यान में रखते हुए कुंभ की सभी परंपराओं का पालन भी किया जा रहा है. अखाड़ों से साधु-संत सीमित संख्या में स्नान के लिए आ रहे हैं. उनके द्वारा वाहन भी सीमित संख्या में प्रयोग किये जा रहे हैं. इसके अलावा स्नान के लिए जो समय सारिणी मेला पुलिस-प्रशासन ने तय की है, उसका पूर्ण रूप से पालन किया जा रहा है.


कोरोना की दूसरी लहर में उत्तराखंड पुलिस के 684 जवान संक्रमित
समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक, कोरोना संक्रमण के खिलाफ जारी जंग में अग्रिम मोर्चे पर लडाई लड़ रही उत्तराखंड पुलिस के 684 जवान कोरोना वायरस की दूसरी लहर में संक्रमित हो गये हैं. पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने बताया कि इन संक्रमितों में से केवल एक महिला पुलिसकर्मी ही गंभीर स्थिति में है जिसे गर्भवती होने के कारण टीका नहीं लगाया जा सका था. उन्होंने कहा कि एक मामले को छोड़कर संक्रमित पाए गए किसी भी जवान को अस्पताल में नहीं भर्ती कराना पडा और सभी स्वस्थ हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: कोरोना के साए में महाकुंभ, हरिद्वार में दो दिनों में 1000 नए मामले