सीमा विवाद : खूनी संघर्ष के एक महीने बाद फिर आमने-सामने आए असम और मिजोरम

खुलिचरा, लैलापुर से करीब 12 किलोमीटर दूर है, जहां पिछले महीने हुई हिंसा के बाद असम पुलिस के 6 जवानों की मौत हुई थी और 45 से ज्यादा घायल हुए थे.

सीमा विवाद : खूनी संघर्ष के एक महीने बाद फिर आमने-सामने आए असम और मिजोरम

दोनों राज्यों की पुलिस ने इलाके में कैंप लगा रखे हैं

गुवाहाटी:

सीमा विवाद (Border Dispute) को लेकर असम और मिजोरम (Assam Mizoram) के बीच हुई खूनी झड़प के एक महीने बाद दूसरे सीमा क्षेत्र खुलिचरा में गुरुवार को दोनों राज्यों की पुलिस के नीच नया गतिरोध पैदा हो गया. अब जहां गतिरोध हुआ है वह जगह पिछले महीने हुई हिंसा वाली जगह से कुछ ही दूरी पर है. ताजा विवाद तब शुरू हुआ जब मिजोरम के अधिकारियों ने असम द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनाई रही एक सड़क को लेकर आपत्ति जताई. इस बीच, असम ने आरोप लगाया कि राज्य की सीमा के दूसरी ओर (मिजोरम) के स्थानीय लोगों ने परेशानी पैदा की है. 

असम पुलिस के मुताबिक, हथियारों से लैस मिजोरम के कुछ लोगों के एक समूह ने दक्षिणी असम के कछार जिले के ढोलई उपखंड में अंतर-राज्यीय सीमा क्षेत्र के खुलिचरा गांव में बन रही सड़क के निर्माण में जुटे मजदूरों को काम करने से रोकने की कोशिश की. 

खुलिचरा, लैलापुर से करीब 12 किलोमीटर दूर है, जहां पिछले महीने हुई हिंसा के बाद असम पुलिस के 6 जवानों की मौत हुई थी और 45 से ज्यादा घायल हुए थे. दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों के बीच भी ट्विटर पर जुबानी जंग देखने को मिली थी. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के हस्तक्षेप के बाद दोनों राज्यों के बीच विवाद खत्म करने के लिए बातचीत शुरू हुई. 

निर्माण कार्य को अभी के लिए रोक दिया गया है. असम की वरिष्ठ पुलिस अधिकारी रमनदीप कौर, कछार जिले के पुलिस अधीक्षक और पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) देवज्योति मुखर्जी और पुलिस दल मौके पर पहुंचे और इलाके में तैनाती बढ़ा दी गई है.

कौर ने कहा, "शीर्ष स्तर पर बातचीत शुरू कर दी गई है और मिजोरम के समकक्षों के साथ बातचीत चल रही है. मुझे लगता है कि इस मुद्दे को सुलझा लिया जाएगा. उन्होंने (मिजोरम के लोगों ने) एक बार फिर नियमों का उल्लंघन किया है और हमारे क्षेत्र में प्रवेश किया है."

READ ALSO: मेरी गिरफ्तारी से यदि मिजोरम के साथ शांति में मदद मिलती है तो इसके लिए तैयार हूं: हिमंत बिस्व सरमा

दोनों राज्यों की पुलिस ने इलाके में कैंप लगा रखे हैं. असम और मिजोरम दोनों के सशस्त्र पुलिस बलों के बीच संघर्ष को रोकने के लिए क्षेत्र में केंद्रीय बलों को भी तैनात किया गया है. 


मिजोरम का दावा है कि असम उनके इलाके में सड़क बना रहा था. मिजोरम के कोलासिब जिले के पुलिस अधीक्षक वनलालफाका राल्ते ने टेलीफोन पर एनडीटीवी को बताया, "हमारे स्थानीय लोगों ने आपत्ति जताई और उन्होंने असम द्वारा उल्लंघन को हमारे संज्ञान में लाया है. हमें आपत्ति करनी पड़ी क्योंकि वे मिजोरम क्षेत्र में प्रवेश कर चुके थे. हम इस मुद्दे को शांतिपूर्वक हल करने की कोशिश कर रहे हैं." 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: जरूरी सामानों की सप्लाई लेकर मिजोरम जा रहे ट्रकों पर असम में पथराव