सिंघु बॉर्डर के पास कुछ युवकों ने की फायरिंग, लंगर को लेकर हुई थी कहासुनी

Firing at Singhu Border: आंदोलनरत किसान, सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर पिछले 100 दिनों से भी ज्यादा अपनी मांगों के साथ बैठे हुए हैं. रविवार देर रात यहां फायरिंग की जानकारी सामने आई.

Firing at Singhu Border: आंदोलनरत किसान, सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर पिछले 100 दिनों से भी ज्यादा अपनी मांगों के साथ बैठे हुए हैं. रविवार देर रात यहां फायरिंग की जानकारी सामने आई. प्राप्त जानकारी के अनुसार यह फायरिंग सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) से कुछ दूर हरियाणा की तरफ TDI गेट पर हुई. रविवार रात करीब 11 बजे कुछ युवक चंडीगढ़ नंबर की गाड़ी से पहुंचे थे. लंगर में किसी बात को लेकर युवकों की किसानों के साथ कहासुनी हो गई. जिसके बाद ये युवक हवाई फायरिंग करके वहां से फरार होने में कामयाब हो गए. पुलिस को इस घटना की जानकारी रात 11.30 बजे दी. 

Read Also: US लौटना छोड़ किसानों की सेवा में जुटे हार्ट स्पेशलिस्ट, रोजाना 4000 लोगों का कर रहे फ्री इलाज

आंदोलन कर रहे किसानों का कहना है कि पुलिस मौके पर देर से पहुंची, फिलहाल हरियाणा पुलिस (Haryana Police) मामले की छानबीन कर रही है. खबर लिखे जाने तक किसानों ने कारतूस के खाली खोल पुलिस को नहीं सौंपे थे. यह फायरिंग अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के एक दिन पहले हुई है. इस दिन बड़ी संख्या में महिलाएं किसानों का समर्थन करने पहुंच रही हैं. ऐसे में किसान पहले से ज्यादा सतर्क हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर आज दिल्ली की सीमाओं सिंघू, टीकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन में मंच प्रबंधन सिर्फ महिलाओं द्वारा किया जाएगा.


Read Also: राकेश टिकैत का सरकार को 'अल्टीमेटम'- जब तक वापस नहीं होता कृषि कानून, चलता रहेगा किसान आंदोलन 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि पिछले कई महीनों से पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसान तीन नए कृषि कानूनों को रद्द किये जाने की मांग को लेकर दिल्ली की सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. किसान न्यूनतम समर्थन मूल्य की कानूनी गारंटी देने की भी मांग कर रहे हैं. वहीं, सरकार ने इन आरोपों को सिरे से खारिज किया है कि वह एमएसपी और मंडी व्यवस्था को समाप्त करना चाहती है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कई बार किसानों को आश्वस्त किया है कि एमएसपी व्यवस्था जारी रहेगी.