किसान आंदोलन : अमित शाह पर जमकर बरसे 'आप' के सांसद संजय सिंह

संजय सिंह ने कहा- किसान जहां भी आंदोलन करना चाहते हैं, वहां उन्हें जगह दें, कोरोना का बहाना मत बनाइए, आपके लिए दिल्ली में कोरोना है, लेकिन हैदराबाद में आप जुलूस निकाल रहे हैं

किसान आंदोलन : अमित शाह पर जमकर बरसे 'आप' के सांसद संजय सिंह

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह.

नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (AAP) के वरिष्ठ नेता संजय सिंह (Sanjay Singh) आज किसानों की समस्याएं और उनके आंदोलन को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा कि किसान जहां भी आंदोलन (Farmers Movement) करना चाहते हैं, वहां उन्हें जगह देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कोरोना का बहाना मत बनाइए. आपके लिए दिल्ली में कोरोना है, लेकिन हैदराबाद में आप जुलूस निकाल रहे हैं. जब देश की राजधानी की सीमा पर लाखों किसान इकट्ठे हों, ऐसे समय मे कैसे कोई गृह मंत्री निगम के चुनाव प्रचार में हैदराबाद जा सकता है? उन्होंने कहा कि आज एक किसान की मौत भी हो गई. ऐसा असंवेदनशील और किसानों की समस्याओ से बेपरवाह गृह मंत्री इस देश ने पहली बार देखा है. 

संजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि देश के लाखों किसान आंदोलनरत हैं. पंजाब, हरियाणा, यूपी के किसान लाखों की संख्या में दिल्ली की सीमा पर बैठे हैं. वे इसका इंतजार कर रहे हैं कि केंद्र सरकार उनसे बात करेगी और समस्याओं का समाधान करेगी. उनका गुनाह है कि वे अपनी फसल का डेढ़ गुना दाम मांग रहे हैं और स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश लागू कराने की मांग कर रहे हैं. लेकिन उनके साथ आतंकियों जैसा व्यवहार किया जा रहा है. 

संजय सिंह ने कहा कि किसानों को आतंकी कहा जा रहा है, जो आंदोलन पर बैठा है और उसका बेटा सीमा पर शहीद हो गया. शहीदे आजम भगत सिंह, शहीद उधम सिंह के वंशजों को भाजपा आतंकी कह रही है. देश के लिए कुर्बानी देने वाले पंजाब के किसानों को आतंकी कहा जा रहा है, उन्हें रोकने के लिए रास्ते कटवाए जा रहे हैं.

सीएम अमरिंदर सिंह ने किसानों से कहा, अमित शाह की अपील स्वीकार करें

उन्होंने कहा कि कुंभकर्ण की नींद के बाद कल अमित शाह प्रकट हुए और कहा कि पहले बुराड़ी ग्राउंड में आइए तब बात करेंगे. इतनी असंवेदनशीलता... वोट के लिए नाक रगड़ते हैं और अब शर्त लगा रहे हैं.

सिंह ने कहा कि 'आप' और हमारी सरकार किसानों के साथ है और दिल्ली में हम उनका स्वागत करते हैं. वे जहां भी आंदोलन करना चाहते हैं, वहां उन्हें जगह देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कोरोना का बहाना मत बनाइए. आपके लिए दिल्ली में कोरोना है, लेकिन हैदराबाद में आप जुलूस निकाल रहे हैं. जब देश की राजधानी की सीमा पर लाखों किसान इकट्ठे हों, ऐसे समय मे कैसे कोई गृह मंत्री निगम के चुनाव प्रचार में हैदराबाद जा सकता है.

सरकार किसानों की हर समस्या और मांग पर विचार करने को तैयार: अमित शाह


आम आदमी पार्टी के सांसद ने कहा कि आज एक किसान की मौत भी हो गई. ऐसा असंवेदनशील और किसानों की समस्याओ से बेपरवाह गृह मंत्री इस देश ने पहली बार देखा है. मैंने तो माइक तोड़ा था, आप तो किसानों की हड्डियां तुड़वा रहे हैं, कौन निलंबित करेगा आपको. निगम का चुनाव इतना महत्वपूर्ण है इनके लिए, किसान की समस्याएं इनके लिए महत्वपूर्ण नहीं हैं. इन्हें सबसे पहले अपने सारे कार्यक्रम रद्द कर किसानों से मुलाकात करनी चाहिए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि आज जैसे प्रधानमंत्री ने इस बिल की तारीफ की है, उससे स्पष्ट है कि मोदी सरकार की मंशा किसानों की समस्याओं का समाधान करने की नहीं है.