कश्‍मीर : श्रीनगर में मुठभेड़ में मारे गए कारोबारियों के परिजनों को पुलिस ने प्रदर्शन स्थल से हटाया

प्रदर्शन कर रहे परिवारजन बुधवार की सुबह से धरने पर बैठे थे और उन्होंने दिन भर प्रदर्शन करने के बाद रात में मोमबत्ती जलाकर अपना विरोध जताया था.

कश्‍मीर : श्रीनगर में मुठभेड़ में मारे गए कारोबारियों के परिजनों को पुलिस ने प्रदर्शन स्थल से हटाया

पूलिस ने प्रदर्शनस्‍थल से दोनों कारोबारियों के रिश्‍तेदारों को बाहर कर दिया

श्रीनगर :

पुलिस ने देर रात कार्रवाई करते हुए कश्‍मीर के श्रीनगर (Srinagar) के हैदरपोरा एरिया में एक विवादित एनकाउंटर (Encounter at Hyderpora)में मारे गए कारोबारी मुदासिर गुल और अल्‍ताफ बट के विरोध कर रहे रिश्‍तेदारों को हटा दिया. मुदासिर और अल्‍ताफ के  परिवार के सदस्यों को मध्यरात्रि के करीब पुलिस ने धरना स्थल से बलपूर्वक हटा दिया, इन्‍हें पुलिस वाहन में ले जाया गया. प्रदर्शन कर रहे परिवार बुधवार की सुबह से धरने पर बैठे थे और उन्होंने दिन भर प्रदर्शन करने के बाद रात में मोमबत्ती जलाकर अपना विरोध जताया था. वे मुदासिर और अल्‍ताफ का शव उन्‍हें लौटाए जाने की मांग कर रहे थे ताकि उनका उचित तरीके से अंतिम संस्‍कार किया जा सके.प्रदर्शनकारियों में कुछ बुजुर्ग भी शामिल थे जिन्‍होंने न्‍याय की मांग करते हुए पोस्‍टर हाथ में लिए हुए थे. 

देश के एक राज्‍य के 400 स्‍कूलों में नहीं हुआ एक भी एडमिशन, इन्‍हें बंद करेगी सरकार

पुलिस कार्रवाई के पहले, दोनों कारोबारियों के परिजनों ने NDTV  को  बताया कि पुलिस अधिकारियों ने उनके पास पहुंचकर शव लौटाने का आश्‍वासन दिया था. परिवार के एक सदस्‍य ने कहा,'अधिकारी ने कहा था कि शव  हमने दिए जाएंगे, उन्‍होंने हमसे जगह खाली करने को कहा था. हमने उनसे कहा कि यह बात हमें लिखित में दीजिए कि शव लौटाए जाएंगे तो उसने कहा कि वह सीनियर अधिकारियों से इस बारे में बात करके जल्‍द ही लौटेगी. लेकिन इसके बाद वहां पर हथियारबंद पुलिसकर्मी पहुंचे और प्रदर्शनस्‍थल से दोनों कारोबारियों के रिश्‍तेदारों को बलपूर्वक बाहर कर दिया. पुलिस र्मियों के आने से पहले ही इलाके में बिजली की आपूर्ति काट दी गई. मुदासिर की बीवी हमाइरा मुदासिर ने कहा , 'मैं केवल अपने पति का शव सौंपे जाने की मांग कर रही हूं, हमें और कुछ नहीं चाहिए, मैं उनका चेहरा देखना चाहती हूं. मैं उन्‍हें आखिरी बार देखना चाहती हूं और उन्‍हें उचित तरीके से दफन करना चाहती हूं. ' हमाइरा के साथ उनकी 18 माह की बेटी भी थी. 

जम्मू कश्मीर के मुख्यधारा के नेताओं ने पुलिस कार्रवाई की निंदा की है. पुलिस कार्रवाई की वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष और जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया, ‘‘निर्दोष नागरिकों के शव सौंपने के बजाय पुलिस ने अपने प्रियजनों के शवों की मांग करने के लिए परिवार के सदस्यों को ही गिरफ्तार कर लिया. अविश्वसनीय रूप से क्रूरता और संवेदनहीनता.कम से कम वे फौरन शव लौटा सकते हैं.''पीपुल्स कांफ्रेंस के प्रमुख सज्जाद लोन ने कहा कि प्रशासन अपना ‘‘अमानवीय और बदसूरत चेहरा'' पेश करने पर आमादा है. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘प्रशासन को क्या हो गया है ? वे मानवीय रुख क्यों नहीं अपना सकते ? वे अमानवीय और बदसूरत चेहरा दिखाने पर आमादा क्यों हैं ?''नेशनल कांफ्रेंस के नेता रुहुल्ला मेहदी ने ट्वीट किया, ‘‘जम्मू कश्मीर पुलिस, जनरल डायर को आप पर बहुत गर्व होगा.'' (भाषा से भी इनपुट)

अहमदाबाद में अब सड़क किनारे नॉनवेज स्टॉल पर बैन, महानगर पालिका ने लगाई पाबंदी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com