लंदन में ED ने यूनीटेक समूह  के खिलाफ धन शोधन मामले में कुर्क किया होटल

‘बेड ऐंड ब्रेकफास्ट’ नाम के इस होटल का स्वामित्व इबॉर्नशोर्न लिमिटेड नाम की कंपनी के पास है जो कार्नौस्ती समूह की ब्रिटेन स्थित सहायक कंपनी है.

लंदन में ED ने यूनीटेक समूह  के खिलाफ धन शोधन मामले में कुर्क किया होटल

एजेंसी ने यहां एक बयान में दावा किया कि मकान खरीददारों के 325 करोड़ रुपये कार्नौस्ती समूह को भेज दिये गये. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने शुक्रवार को कहा कि उसने भवन निर्माता कंपनी यूनीटेक समूह (Unitech Group) और इसके प्रवर्तकों, संजय चंद्रा (Sanjay Chandra) और अजय चंद्रा (Ajay Chandra) के खिलाफ धन शोधन की जांच के सिलसिले में लंदन स्थित 58.61 करोड़ रुपये मूल्य का एक होटल कुर्क किया है. ‘बेड ऐंड ब्रेकफास्ट' नाम के इस होटल का स्वामित्व इबॉर्नशोर्न लिमिटेड नाम की कंपनी के पास है जो कार्नौस्ती समूह की ब्रिटेन स्थित सहायक कंपनी है. ईडी ने संपत्ति कुर्क करने के लिए धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत एक अस्थायी आदेश जारी किया था. यह मामला, मकान खरीदारों द्वारा यूनीटेक समूह और इसके प्रवर्तकों के खिलाफ दिल्ली पुलिस आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) के पास दर्ज कराई गई कई प्राथमिकियों पर आधारित है.

सुप्रीम कोर्ट से अनिल देशमुख और उनके बेटे को झटका, ED को आदेश देने से इनकार

एजेंसी ने यहां एक बयान में दावा किया कि मकान खरीददारों के 325 करोड़ रुपये कार्नौस्ती समूह को भेज दिये गये. इनमें से 41.3 करोड़ रुपये कार्नौस्ती समूह, इंडिया और इनडिजाइन इंटरप्राइजेज प्रा. लि. , साइप्रस के जरिए ब्रिटेन भेजे गये. आरोप है कि इन रुपयों का इस्तेमाल कार्नौस्ती समूह से संबद्ध कंपनी कार्नौस्ती मैनेजमेंट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के नाम से इबॉनशोर्न लिमिटेड, ब्रिटेन के शेयर खरीदने में किया गया.

एक हजार करोड़ रुपये के धनशोधन मामले में दिल्ली की अदालत ने चीनी नागरिक को दी जमानत

ईडी ने यूनीटेक समूह और इसके प्रवर्तकों के खिलाफ इस साल की शुरूआत में पीएमएलए की विभिन्न धाराओं के तहत इस साल की शुरूआत में एक आपराधिक मामला दर्ज किया था. दरअसल, कंपनी और प्रवर्तकों--संजय चंद्रा तथा अजय चंद्रा-- पर आरोप लगाया गया था कि उन्होंने अवैध तरीके से 2,000 करोड़ रुपये साइप्रस और केमैन द्वीप भेजे. एजेंसी ने मामले में चार मार्च को शिवालिक समूह, त्रिकार समूह, यूनीटेक समूह और मुंबई एवं एनसीआर में कार्नौस्ती समूह के 35 ठिकानों पर छापे मारे थे. इस मामले में अब तक कुल 595.61 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की जा चुकी है क्योंकि इस तरह के तीन आदेश पहले भी जारी किये गये थे.


ईडी ने एंबिएंस मॉल के मालिक राज सिंह गहलोत को किया गिरफ्तार, जानें क्या है मामला

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)