किसान को मूर्ख ना समझें : कृषि कानूनों की वापसी के ऐलान पर बोले दिग्विजय सिंह

शुक्रवार को सुबह देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की कि सरकार तीनो कृषि कानून वापस लेने जा रही है. साथ ही पीएम मोदी ने किसानों से अपील की कि अब वे अपने घरों और खेतों को लौट जाएं.

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीनों कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि किसानों ने एक बार फिर बता दिया है कि उनसे बगैर पूछे समझे कोई भी कानून बनाना उचित नहीं. उन्होंने कहा कि किसान को मूर्ख ना समझें. इसके अलावा दिग्विजय ने पीएम मोदी से तीन मांगें भी रखीं. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी इस कानून को निरस्त करने के लिए कानून लाए कानून ताकी उस पर संसद में सील लग सके, एमएसपी के मामले में कानून को स्वरूप देने के लिए सभी किसानों के दलों से चर्चा करें, आगामी सत्र में किसानों के पक्ष में एमएसपी के लिए कानून लाए, इसके अलावा जो कृषि कानून की लड़ाई में शहीद हुए हैं उनकी शहादत को याद किया जाए उन्हें राहत राशि दी जाए.

कृषि कानूनों की वापसी पर अरविंद केजरीवाल का बयान- अमर रहेगी 700 से ज्यादा किसानों की शहादत

दिग्विजय ने दो ट्वीट किए और लिखा, "मोदी जी को धन्यवाद. देर से आए दुरुस्त आए. जीत गया भाई जीत गया किसान आंदोलन जीत गया. #जन_जागरण_अभियान #किसान_जीत_गया_मोदी_हार_गया #किसान_भारत_की_शान" "मेरी तीन मांगें हैं. 
१- किसान विरोधी क़ानून को निरस्त करने के लिए तत्काल क़ानून लाएं.
२- MSP पर किसान उपज को आवश्यक रूप से ख़रीदने के लिए क़ानून लाएं
३- किसान आंदोलन में शहीद होने वालों को मुआवज़ा दिया जाए. जीत गया भाई जीत गया 
किसान आंदोलन जीत गया
#किसान_जीता_मोदी_हारा"

'तीनों कृषि कानून लेंगे वापस', राष्ट्र के नाम संबोधन में PM मोदी का ऐलान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि शुक्रवार को सुबह देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की कि सरकार तीनो कृषि कानून वापस लेने जा रही है. साथ ही पीएम मोदी ने किसानों से अपील की कि अब वे अपने घरों और खेतों को लौट जाएं.