दिल्ली की हवा फिर हुई जहरीली, दीवाली से पहले ही पहुंची 'बहुत खराब' कैटेगरी में

Delhi Air Pollution : IMD ने 2 व 3 नवंबर को दिल्ली-एनसीआर में हवा की गुणवत्ता 'खराब' के निचले स्तर व 'बहुत खराब' स्तर तक ही रहने की संभावना जताई थी. वहीं विभाग ने 4 नवंबर को हवा की गुणवत्ता "​बहुत खराब" के निचले स्तर तक जाने के भी संकेत दिए हैं.

नयी दिल्ली:

राजधानी दिल्ली में बुधवार को हवा की गुणवत्ता (Delhi Air Quality) बहुत ही खराब श्रेणी में दर्ज की गई. पिछले दो तीन दिनों से हवा लगातार बिगड़ रही थी. केंद्र संचालित वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान तथा अनुसंधान प्रणाली (SAFAR) के वायु गुणवत्ता सूचकांक के अनुसार PM 2.5 तत्व 252 के स्तर पर 'खराब' श्रेणी और PM 10 तत्व 131 पर रहते हुए 'बेहद खराब' श्रेणी में दर्ज हुआ. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने 2 व 3 नवंबर को दिल्ली—एनसीआर में हवा की गुणवत्ता 'खराब' के निचले स्तर व 'बहुत खराब' स्तर तक ही रहने की संभावना जताई थी. वहीं विभाग ने 4 नवंबर को हवा की गुणवत्ता "​बहुत खराब" के निचले स्तर तक जाने के भी संकेत दिए हैं.

IMD के अनुसार 5 नवंबर व 6 नवंबर को भी हवा की गुणवत्ता '​बहुत खराब' के स्तर पर रह सकती है. इस सब में पीएम 2.5 तत्व की अहम भूमिका रहेगी.


इससे पहले IMD ने दिल्ली के दक्षिण-पूर्वी दिशाओं से 10 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से प्रबल सतही हवा के आने की भी संभावना जताई थी, जिसके चलते 2 नवंबर की दोपहर/शाम को आकाश में आंशिक रूप से बादल छाए रहने की बात कही गई थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं 3 नवंबर को दक्षिण पूर्वी दिशाओं से आने वाली प्रबल सतही हवाओं की रफ्तार 4 से 8 किमी प्रति घंटा रह सकती है जिसके चलते आसमान साफ रहने की संभावना है. 4 नवंबर को यह हवाएं उत्तर-पूर्व / उत्तर-पश्चिम दिशाओं से  04-08 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बहने की संभावना है जिसके कारण आसमान साफ रह सकता है.