उपद्रवियों की अब खैर नहीं, दिल्‍ली पुलिस ने सबक सिखाने के लिए तैयार करवाईं स्‍टील की लाठियां : सूत्र

दिल्‍ली पुलिस के सूत्रों के अनुसार, उपद्रवियों का सामना करने के लिए पुलिस ने स्टील लाठियां (Steel Stick) तैयार की हैं, इन लाठियों की मदद से वह उपद्रवी तत्‍वों को कड़ा सबक सिखा सकेगी

उपद्रवियों की अब खैर नहीं, दिल्‍ली पुलिस ने सबक सिखाने के लिए तैयार करवाईं स्‍टील की लाठियां : सूत्र

उपद्रवियों का सामना करने के लिए पुलिस ने तैयार करवाई स्‍टील की लाठियां

नई दिल्ली:

Tractor Rally Violence: उपद्रवी तत्‍वों के खिलाफ सख्‍ती बरतने के लिए दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) ने कमर कस ली है. दिल्‍ली पुलिस के सूत्रों के अनुसार, उपद्रवियों का सामना करने के लिए पुलिस ने स्टील लाठियां (Steel Stick) तैयार की हैं, इन लाठियों की मदद से वह उपद्रवी तत्‍वों को कड़ा सबक सिखा सकेगी. हालांकि पुलिस आधिकारिक तौर पर इस तरह की लाठियों की बात से इनकार कर रही है. गौरतलब है कि 26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस पर आयोजित किसानों की ट्रैक्‍टर रैली के दौरान हुई हिंसा में दिल्ली पुलिस के करीब 400 पुलिसकर्मी घायल हो गए थे, इसमें वो पुलिसकर्मी भी शामिल थे जिन्‍हें तलवार, लोहे की रॉड, फरसा, तलवार जैसे हथियार मारे गए थे.

गणतंत्र दिवस हिंसा : फॉरेंसिक विशेषज्ञों की टीम ने लालकिला से सबूत इकट्ठे किए

अलीपुर SHO प्रदीप पालीवाल पर भी एक शख्स ने तलवार से हमला किया था जिसमे उनके हाथ पर चोट लगी थी. ऐसे हथियारों से बचने के लिए पुलिस ने स्टील लाठी स्पेशली बनवाई है. ये स्टील लाठी दिल्ली के शाहदरा डिस्ट्रिक्ट ने तैयार करवाई हैं और इनकी संख्‍या 50 के आसपास है.

किसान आंदोलन : दिल्ली के तीन धरनास्थलों पर इंटरनेट सेवाएं दो फरवरी की रात तक निलंबित

गौरतलब है कि 26 जनवरी को किसान संगठनों की ‘ट्रैक्टर परेड' के दौरान हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी निर्धारित मार्ग से अलग हो गए थे और पुलिस के साथ उनकी झड़प हुई थी. अनेक प्रदर्शनकारी लालकिले में प्रवेश कर गए थे.दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा इस मामले की जांच कर रही है और दोषियों की पहचान करने के लिए कई टीमें गठित की गई हैं. पुलिस ने लालकिला परिसर में तोड़फोड़ किए जाने की घटना को ‘‘राष्ट्र विरोधी गतिविधि'' बताया है. 


जो लाल किला गए, उन पर कार्रवाई हो : किसान नेता

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com