दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 29 हजार के करीब पहुंचा, बीते 24 घंटे में 1282 नए मामले

Delhi Covid-19 Update: देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 29 हजार के करीब पहुंच गया है. दिल्ली में बीते 24 घंटे में 1282 नए मामले सामने आए. इससे संक्रमितों का आंकड़ा 28,936 पहुंच गया है. 

दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 29 हजार के करीब पहुंचा, बीते 24 घंटे में 1282 नए मामले

Delhi Coronavirus Cases: दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 29 हजार के करीब पहुंचा.

नई दिल्ली:

Delhi Covid-19 Update: देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. भारत में कोरोना से 2.5 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं, वहीं करीब 7 हजार लोगों की अब तक मौत हो चुकी है. इस बीच देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 29 हजार के करीब पहुंच गया है. दिल्ली में बीते 24 घंटे में 1282 नए मामले सामने आए. इससे संक्रमितों का आंकड़ा 28,936 पहुंच गया है.

दिल्ली में बीते 24 घंटों में 335 मरीज ठीक हुए हैं वहीं, अब तक कुल 10999 मरीज इलाज के बाद ठीक होकर अपने घर लौट चुके हैं. पिछले 24 घंटों में राजधानी में किसी की मौत नहीं हुई, लेकिन 8 मई से 5 जून के बीच 51 मौतें हुई, जिसके चलते आंकड़ा 761 से बढ़कर 812 पहुंच गया है. दिल्ली में रिकवरी रेट 38.01% है वहीं, मृत्यू दर 2.80% है. यहां फिलहाल एक्टिव मरीज़ों की संख्या 17,125 है.

इस बीच बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच दिल्ली कैबिनेट ने फैसला लिया है कि दिल्ली सरकार के और प्राइवेट अस्पतालों में केवल दिल्ली के निवासियों का इलाज होगा, जबकि केंद्र सरकार के अस्पतालों में सभी का इलाज होगा. अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर इसकी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि इसी के साथ इसी के साथ दिल्ली से बाहर के सभी लोगों के लिए बॉर्डर खोल दिए जाएंगे.

उन्होंने बताया कि दिल्ली में बढ़ते मामलों के चलते फैसले लिया गया है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के अस्पतालों में देश भर के लोगों के इलाज हो सकेंगे. अरविंद केजरीवाल के अनुसार दिल्ली में जून के आखिरी तक 15 हजार बेड की जरूरत होगी, जबकि हमारे पास सिर्फ 10 हजार बेड हैं. ऐसे में अस्पतालों को सबके लिए खोला जाना संभव नहीं होगा.

उन्होंने कहा कि मार्च के महीने तक दिल्ली के सारे अस्पताल पूरे देश के लोगों के लिए खुले रहे. किसी भी समय हमारे दिल्ली के अस्पतालों में 60 से 70 फ़ीसदी लोग दिल्ली से बाहर के थे लेकिन कोरोना के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं. ऐसे में आप की सरकार बेड का इंतजाम कर रही है. ऐसे में अगर दिल्ली के अस्पताल बाहर वालों के लिए खोल दिए तो दिल्ली वालों का क्या होगा. दिल्ली के 90 फ़ीसदी लोगों ने कहा कि जब तक को रोना है तब तक दिल्ली के अस्पतालों में सिर्फ दिल्लीवासियों का इलाज हो.


उन्होंने बताया कि 5 डॉक्टर की एक कमेटी बनाई थी उसने अपनी रिपोर्ट दी है. कमेटी ने कहा है कि जून अंत तक दिल्ली को 15,000 बेड की ज़रूरत होगी. उनका यह कहना है कि फिलहाल दिल्ली के अस्पताल दिल्ली वासियों के लिए होने चाहिए बाहर वालों के लिए नहीं अगर बाहर वालों के लिए खोल दिया तो 3 दिन में सब बेड भर जाएंगे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: दिल्ली के अस्पताल दिल्लीवालों के लिए- CM अरविंद केजरीवाल