दिल्ली में कोरोना के 523 नए मामले, एक्टिव मामलों की संख्या 30 मार्च के बाद सबसे कम

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Coronavirus in Delhi) में पिछले 24 घंटों में कोविड के 523 नए मामले सामने आए हैं. इस दौरान 50 मरीजों की मौत हुई है.

दिल्ली में कोरोना के 523 नए मामले, एक्टिव मामलों की संख्या 30 मार्च के बाद सबसे कम

दिल्ली में कोरोना की रफ्तार थम रही है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • दिल्ली में कोविड के 523 नए मामले
  • 24 घंटे में 50 कोरोना मरीजों की मौत
  • राजधानी में कोविड के 8060 एक्टिव केस
नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Coronavirus in Delhi) में अब कोरोनावायरस की रफ्तार लगातार कम हो रही है. पिछले 24 घंटों में कोविड के 523 नए मामले सामने आए हैं. इस दौरान 50 मरीजों की मौत हुई है. दिल्ली में एक्टिव मामलों की संख्या 30 मार्च के बाद सबसे कम है. इस समय 8060 उपचाराधीन मरीज हैं. दिल्ली में अब कुल मामलों की संख्या 14,28,449 हो गई है. अब तक 24,497 मरीजों की मौत हुई है.

दिल्ली में कोरोना से ठीक हुए मरीजों की बात करें तो पिछले 24 घंटों में 1161 मरीज इस महामारी को हराकर अपने घर लौटे हैं. अब तक कुल 13,95,892 लोग ठीक हो चुके हैं. पिछले 24 घंटों में 77,174 कोरोना टेस्ट हुए. अब तक कुल 1,96,03,764 टेस्ट किए जा चुके हैं. रिकवरी रेट 97.72 फीसदी है. दिल्ली का डेथ रेट 1.71 प्रतिशत और पॉजिटिविटी रेट 0.68 फीसदी है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बोले- बच्चों के लिए जल्द से जल्द खरीदें जाएं फाइजर के टीके

बताते चलें कि दिल्ली सरकार (Delhi Govt) ने ऑक्सीजन की कमी की वजह से जान गंवाने वाले लोगों को मुआवजा देने के लिए 4 सदस्यों की एक कमेटी का गठन किया है. कमेटी के गठन वाली फाइल मंजूरी के लिए उप-राज्यपाल को भेजी गई है. दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने इस बारे में कहा, 'दिल्ली में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान इस तरह की खबरें सामने आईं कि कुछ अस्पताओं में ऑक्सीजन की कमी की वजह से मौत हुई. कोविड-19 की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की काफी किल्लत रही थी.'

मनीष सिसोदिया ने आगे कहा, 'हमारी सरकार ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए 4 सदस्य, जो मेडिकल एक्सपर्ट हैं, उनकी एक कमेटी बनाई है, जो अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से मौत की जांच करेंगे. कमेटी का गठन करने के बाद फाइल उप-राज्यपाल को भेज दी है. जैसे ही उप-राज्यपाल से फाइल अप्रूव होकर आती है, कमेटी काम करना शुरू कर देगी.'

कोरोना की दूसरी लहर में DU का बड़ा नुकसान, 40 दिनों में 60 से ज्यादा शिक्षकों-स्टाफ की मौत


उन्होंने कहा, 'कमेटी हफ्ते में दो बार मामलों की जांच करेगी और फैसले लेगी. अगर जांच के बाद पता चलेगा कि किसी की मौत ऑक्सीजन की कमी की वजह से हुई है तो ऐसे मामलों में पीड़ित परिवार को दिल्ली सरकार 5 लाख रुपये का मुआवजा देगी.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: फाइजर-मॉडर्ना को छूट? सरकारी सूत्रों ने कहा- 'दायित्व से मुक्ति' की शर्त में दिक्कत नहीं