कोरोना लहर के साथ इन 5 वजहों से 10% लुढ़का कच्चा तेल, जानिए कितना सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल

Fuel Price Today : पिछले दो हफ्ते में कच्चे तेल (Crude Oil) का दाम 10 फीसदी से ज्यादा कम हुआ है. अकेले गुरुवार को ही ब्रेंट क्रूड ऑयल 4.5 फीसदी लुढ़क गया.

कोरोना लहर के साथ इन 5 वजहों से 10% लुढ़का कच्चा तेल, जानिए कितना सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल

Petrol Diesel Price Cut : दो दिन में महज 39 पैसे की कटौती की गई

नई दिल्ली:

Petrol Diesel Rate Today : दुनिया भर में कोरोना की नई लहर एक तरफ कहर ढा रही है तो दूसरी ओर कच्चे तेल (Crude Oil) के दाम लुढ़कने से भारत समेत कई देशों ने राहत की सांस ली है. पिछले दो हफ्ते में कच्चे तेल का दाम 10 फीसदी से ज्यादा कम हुआ है. अकेले गुरुवार को ही ब्रेंट क्रूड ऑयल 4.5 फीसदी लुढ़क गया. हालांकि इस कटौती का ज्यादा लाभ पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel Price Today) के खरीदारों को मिलता दिखाई नहीं दे रहा है.

GST काउंसिल की अगली बैठक मई में, पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में शामिल करने पर होगी चर्चा  

तेल कंपनियों ने पिछले दो दिन में पेट्रोल और डीजल की कीमत में महज 39 पैसे की कटौती की है. अगर कच्चे तेल के दाम के हिसाब से ही पेट्रोल-डीजल की कीमतों मे कटौती होती तो 4 से 5 रुपये की राहत आम जनता को मिल सकती थी. हालांकि शुक्रवार को पेट्रोल-डीजल के रेट में कोई कटौती नहीं की गई.  

जेब पर 'डाका', वित्‍त वर्ष 2020-21 के पहले 10 माह में केंद्र ने पेट्रोल-डीजल पर टैक्‍स से कमाए 2.94 लाख करोड़ 

आईआईएफएल सिक्योरिटीज कमोडिटीबैंड करेंसी रिसर्च ((IIFL Securities, Commodityband currency research) के वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने गुरुवार को कच्चे तेल के दाम में लगातार गिरावट देखने को मिली है. अभी डब्ल्यूटीआई क्रूड 58.20 डॉलर और ब्रेंट क्रूड 61.78 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा है. कच्चा तेल अभी 3-4 डॉलर और नीचे आ सकता है. हालांकि तेल कंपनियां (Oil Companies) कितना लाभ ग्राहकों को पहुंचाएंगे, ये देखने वाली बात होगी.

इन 5 कारणों से गिरे दाम
1. चीन की स्वतंत्र रिफायनरियों ने मरम्मत के कारणकच्चे तेल के आयात में कमी की है. ये देश का 20 फीसदी आयात करती हैं. आायात कम होने से मांग में कमी का असर कच्चे तेल पर दिखा है. भारत, चीन कच्चे तेल के बड़े ग्राहक हैं.
2. कच्चे तेल की आपूर्ति खासकर अमेरिका में सत्ता परिवर्तन के बाद ईरान में तेल आपूर्ति बढ़ने का भी असर दिखा है.
3. कोरोना की नई लहर आने के बाद कई देशों में आर्थिक गतिविधियों पर फिर लगा रहा है अंकुश
4. आने वाले कुछ महीनों में आर्थिक गतिविधियों में तेजी की संभावना न होने से मांग में कमी,जिससे कच्चा तेल लुढ़का
5. यूरोप समेत कई देशों ने हवाई यातायात समेत कई तरह की पाबंदियां लगाईं, जिसका असर देखने को मिल रहा


महानगरों में दाम अभी भी आसमान पर
कीमतों में 25 मार्च को कटौती के बाद अगर आज की कीमतों पर नजर डालें तो, दिल्ली में पेट्रोल (Delhi Petrol Price Today)  90.78 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमतें 81.10 रुपये प्रति लीटर है. मुंबई में पेट्रोल 97.19 रुपये प्रति लीटर पर है. डीजल 88.20 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोलकाता-चेन्नई में भी ऊंची कीमत
चेन्नई की बात करें तो यहां पेट्रोल की कीमत 92.77 रुपये प्रति लीटर है वहीं डीजल 86.10 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है. कोलकाता में पेट्रोल की कीमत 90.98 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 83.98 रुपये प्रति लीटर है.