क्या Covid-19 वैक्सीन के साइड इफेक्ट भी हैं? क्या कहते हैं एक्सपर्ट, जरूर पढ़ें

WHO की अधिकारी का कहना है कि वैक्सीन लगवाने के बाद कुछ साइड इफेक्ट दिखाई देना सामान्य और अपेक्षित होता है. दरअसल, यह प्रतिक्रिया इस बात का संकेत होती है कि आपका शरीर वायरस के खिलाफ प्रतिरोध तैयार कर रहा है. 

क्या Covid-19 वैक्सीन के साइड इफेक्ट भी हैं? क्या कहते हैं एक्सपर्ट, जरूर पढ़ें

कोविड वैक्सीन के साइड इफेक्ट को लेकर उठ रहे हैं सवाल.

नई दिल्ली:

कोरोनावायरस के खिलाफ देश में आम जनता के लिए वैक्सीनेशन शुरू हो चुका है. यह दूसरे चरण का वैक्सीनेशन ड्राइव है. जनवरी में देश में सबसे पहले वैक्सीनेशन शुरू हुआ था, जब हेल्थ और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन लगाई गई थी. अब दूसरे चरण में 60 साल से ऊपर के लोगों और गंभीर बीमारियों से जूझ रहे 45 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है. 

ऐसे में अब जब वैक्सीनेशन शुरू हो गई है तो यह सवाल बहुत सामान्य हो गया है कि कोरोना की वैक्सीन कितनी सुरक्षित है. चूंकि यह वैक्सीन एक साल के अंदर बनी है, ऐसे में इसके प्रभावी रहने को भी लेकर सवाल उठाए गए थे. लेकिन असल मुद्दा जो है वो ये कि आखिर कोरोना की वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट है क्या, और अगर हां तो क्या?

क्या कहता है WHO?

विश्व स्वास्थ्य संगठन की मेडिसिन एंड वैक्सीन सेफ्टी टीम की अयाको फुकिशिमा ने हाल ही में एक IGTV वीडियो में वैक्सीन के साइड इफेक्ट को लेकर जानकारी दी थी. उन्होंने बताया कि वैक्सीन लगवाने के बाद कुछ साइड इफेक्ट दिखाई देना सामान्य और अपेक्षित होता है. दरअसल, यह प्रतिक्रिया इस बात का संकेत होती है कि आपका शरीर वायरस के खिलाफ प्रतिरोध तैयार कर रहा है.

यह भी पढ़ें : संजीवनी साबित होगी वैक्सीन- कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद बोले डॉ हर्षवर्धन

क्या साइड इफेक्ट देखे जा सकते हैं-

- हल्का बुखार
- थकान
- सिरदर्द
- जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी इन्ही लक्षणों को कोविड वैक्सीन का साइड इफेक्ट बताया है और कहा है कि यह लक्षण सामान्य हैं और अधिकतक वैक्सीन लगाए जाने के बाद लोगों में दिखाई देते हैं. अमेरिका के सेंटर्स ऑफ डिजीज़ कंट्रोल एंड्र प्रिवेंशन ने इंजेक्शन लगने की जगह पर सूजन और दर्द होने को भी साइड इफेक्ट बताया है.


ऊपर बताए गए ये लक्षण सामान्यतया एक हफ्ते से कुछ कम वक्त तक बने रह सकते हैं, लेकिन अगर आपके लक्षण इससे ज्यादा वक्त तक बने हुए हैं तो आपको स्वास्थ्यकर्मियों से संपर्क करना चाहिए. इससे आपको जल्द मदद तो मिलेगी ही, अगर वैक्सीन में कुछ दिक्कत है तो वक्त रहते दूसरों को भी इसे देने से रोका जा सकेगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हालांकि, एक्सपर्ट्स का इस बात पर भी जोर है कि वैक्सीन से बहुत गंभीर समस्या हो जाने का बहुत कम चांस है क्योंकि 'वैक्सीन को बहुत ही जटिल और कड़ी सुरक्षा प्रक्रियाओं से गुजारने के बाद और इनके सुरक्षित होने के भरोसे के बाद ही इन्हें जारी किया गया था.'