Coronavirus की जांच : आम आदमी पार्टी ने ICMR की गाइडलाइन में की बदलाव की मांग

दिल्ली के अस्पतालों में सिर्फ दिल्ली के निवासियों का ही इलाज होगा, इस नियम को उप राज्यपाल अनिल बैजल ने पलट दिया.

Coronavirus की जांच : आम आदमी पार्टी ने ICMR की गाइडलाइन में की बदलाव की मांग

Coronavirus : दिल्ली में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है

नई दिल्ली :

दिल्ली के अस्पतालों में सिर्फ दिल्ली के निवासियों का ही इलाज होगा, इस नियम को उप राज्यपाल अनिल बैजल ने पलट दिया. इसको लेकर आम आदमी पार्टी के नेताओं ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा था. सीएम केजरीवाल ने कहा था कि 'LG साहब के आदेश ने दिल्ली के लोगों के लिए बहुत बड़ी समस्या और चुनौती पैदा कर दी है'. लेकिन दिल्ली सरकार  में मंत्री सत्येंद्र जैन और राज्यसभा में पार्टी के सांसद संजय सिंह ने केंद्र सरकार के अंर्तगत आने वाले आईसीएमआर (ICMR) की गाइडलाइन को लेकर सवाल उठा दिए हैं. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने एक सवाल के जवाब में कहा, अगर आप चाहते हैं कि कोरोना  के टेस्ट और बढ़ाएं तो आईसीएमआर से अपनी गाइडलाइन बदलने के लिए कहिए. हम उसका उल्लंघन नहीं कर सकते हैं.'

वहीं संजय सिंह ने कहा कि इस समय टेस्टिंग बढ़ाने की जरूरत है. इसकी गाइ़डलाइन बदली जानी चाहिए. संजय सिंह ने कहा कि उन्होंने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से को इसको लेकर चिट्ठी भी लिखी है कि अगर किसी को कोरोना होने का संदेह है तो उसे तुरंत अपनी जांच कराने दी जाए. संजय सिंह ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा लैब को लाइसेंस देने का काम हो और राज्यों के पास ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग किट उपलब्ध करवाए जाएं. हमें पता होना चाहिए कि कौन संक्रमित है और कौन नहीं. अन्यथा हम बारूद के ढेर में बैठ विस्फोट होने का इंतजार कर रहे होंगे. 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उधर बीजेपी सांसद प्रवेश साहिब सिंह ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर कोरोना के कारण पनपे हालात को संभालने में नाकाम रहने का आरोप लगाया. साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री से राज्य में तुरंत लॉकडाउन लगाने की अपील की है.  दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के सांसद प्रवेश साहिब सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा- "मेरी अरविंद केजरीवाल जी से हाथ जोड़ कर प्रार्थना है कि आप जीएसटी, कर की चिंता छोड़ दें और तुरंत दिल्ली में लॉकडॉउन की घोषणा करें. क्योंकि आप सक्षम नहीं हैं स्थिति को सम्भालने के लिए. दिल्ली के सभी सांसद आप को हर सम्भव मदद देने के लिए तैयार हैं."