कोरोना की चिंता, चीन ने वीजा या रेसीडेंट परमिट पर भारत से आने वाले विदेशियों की एंट्री पर लगाई रोक

भारत में चीन के दूतावास की ओर से कहा गया है भारत स्थित चीनी दूतावास/काउंसलेट इन श्रेणियों के धारकों के हेल्‍थ डिक्‍लेयरेशन फॉर्म पर मुहर (Stamp) नहीं लगाएगी.

कोरोना की चिंता, चीन ने वीजा या रेसीडेंट परमिट पर भारत से आने वाले विदेशियों की एंट्री पर लगाई रोक

प्रतीकात्‍मक फोटो

Coronavirus concern: कोरोना के दोबारा संक्रमण फैलने को लेकर चीन (China) बेहद सजग है. कोरोना वायरस को लेकर चिंता के चलते चीन (China) ने भारत से उन विदेशियों के अपने यहां आने पर अस्‍थायी तौर पर रोक लगा दी है जिनके पास वैध चीनी वीजा या रेसीडेंस परमिट (Chinese visas or residence permits) है. भारत में चीन के दूतावास (Chinese Embassy in India) की ओर से कहा गया है भारत स्थित चीनी दूतावास/काउंसलेट इन श्रेणियों के धारकों के हेल्‍थ डिक्‍लेयरेशन फॉर्म पर मुहर (Stamp) नहीं लगाएगी.गौरतलब है कि मार्च में चीन ने कोरोना महामारी के मद्देनजर अपने यहां विदेशियों की एंट्री बैन कर दी थी. 

कनाडा : इंसानों में स्वाइन फ्लू का दुर्लभ स्ट्रेन मिला, कोरोना के बीच नए खतरे से सतर्कता

अमेरिका में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 99,000 से ज्यादा नए मामले : रिपोर्ट

गौरतलब है कि ऐसा माना जाता है कि कोरोना वायरस संक्रमण सबसे पहले चीन के वुहान शहर में ही फैला था. हालांकि इसके बाद चीन तत्‍परता से कार्यवाही करते हुए कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में सफल रहा. हालांकि कोरोना संक्रमण की बात 'छुपाने' को लेकर चीन को दुनियाभर में आलोचना का सामना भी करना पड़ा है. अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप तो सार्वजनिक तौर पर कोरोना वायरस को दुनिया को चीन की 'देन' बताते रहे हैं. महाशक्ति अमेरिका, कोरोना संक्रमण से सबसे ज्‍यादा प्रभावित है, यहांअब तक कोरेाना के 94 लाख से अधिक केस आ चुके हैं. इनमें एक्टिव केसों की संख्‍या 55,03, 102 है. भारत की बात करें तो यहां कोरोना के केसों की संख्‍या 83 लाख के आंकड़े को पार कर चुकी है, इसमें एक्टिव केसों की संख्‍या 5,27, 962 है.


घरों के भीतर तेजी से फैलता है कोरोना वायरस, रिसर्च में आया सामने

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com