सीएम योगी ने यूपी पुलिस को दिया बड़ा तोहफा, पौष्टिक आहार भत्ते में किया इजाफा

पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर निरीक्षक, उपनिरीक्षक, मुख्य आरक्षी, आरक्षी और चतुर्थ श्रेणी के कर्मियों के लिए उनके पौष्टिक आहार भत्ते में 25 फीसदी की वृद्धि करने की घोषणा की. प्रदेश सरकार ने मोबाइल सिम भत्ता भी बढ़ाने का फैसला किया है. इन सभी कर्मियों को साल में 2,000 रुपये का सिम भत्ता देने की घोषणा की गई है.

सीएम योगी ने यूपी पुलिस को दिया बड़ा तोहफा, पौष्टिक आहार भत्ते में किया इजाफा

पुलिस स्मृति दिवस पर मुख्यमंत्री योगी ने प्राण गंवाने वाले पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित की

लखनऊ:

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) के पोषक आहार भत्ते (Dietary Allowance) में 25 फीसदी की वृद्धि की घोषणा की है. इसके साथ ही सरकार ने पुलिसकर्मियों का सिम भत्ता भी बढ़ाने का फैसला किया है. राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर निरीक्षक, उपनिरीक्षक, मुख्य आरक्षी, आरक्षी और चतुर्थ श्रेणी के कर्मियों के लिए उनके पौष्टिक आहार भत्ते में 25 फीसदी की वृद्धि करने की घोषणा की. प्रदेश सरकार ने मोबाइल सिम भत्ता भी बढ़ाने का फैसला किया है. इन सभी कर्मियों को साल में 2,000 रुपये का सिम भत्ता देने की घोषणा की गई है.

''खबर आ रही है कि इस तस्वीर से योगी जी इतने व्यथित हो गए कि..'' प्रियंका गांधी का CM योगी पर हमला

दरअसल, पुलिस स्मृति दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री योगी ने ड्यूटी के दौरान प्राण गंवाने वाले पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित की. उन्होंने इस मौके पर आयोजित परेड की सलामी ली और विश्वास व्यक्त किया कि प्रदेश पुलिस के सभी सदस्य पूरी ईमानदारी, कर्तव्य परायणता तथा जनसेवा की भावना से कार्य करते हुए उत्तर प्रदेश की जनता के मन में सुरक्षा की भावना को और अधिक सुदृढ़ करने में सहयोग करेंगे. उन्होंने प्रदेश के शहीद पुलिस कर्मियों के परिजनों को आश्वस्त करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार उनके कल्याण के लिये पूर्ण संवेदनशीलता के साथ सभी जरूरी कदम उठाने के लिए हमेशा तत्पर रहेगी.

उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मी अपने कर्तव्य का पालन करते हुए कोरोना संक्रमित हुए फिर भी वे निरन्तर सेवाकार्य में लगे रहे. कर्तव्य पालन के दौरान कोरोना संक्रमण से 37 पुलिस कर्मियों की मृत्यु हो गई. उनके आश्रितों को 18 करोड़ 50 लाख रुपये का भुगतान मृत पुलिस कर्मी के नियुक्ति जनपद के जिलाधिकारी के माध्यम से किया गया है. पुलिस विभाग के विभिन्न अराजपत्रित पदों पर 23,075 कार्मिकों को पदोन्नति प्रदान की जा चुकी है. उप निरीक्षक के 829 एवं आरक्षी के 26,744 पदों पर सीधी भर्ती के लिए पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड को प्रस्ताव भेजा जा चुका है.

सुप्रीम कोर्ट पहुंचा गोरखपुर में कारोबारी मनीष गुप्ता की हत्‍या का मामला, पत्नी बोली- यूपी पुलिस पर भरोसा नहीं


मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार अपराध एवं अपराधियों के प्रति जीरो टालरेंस की नीति के तहत कार्य कर रही है. इसके परिणामस्वरूप विभिन्न जनपदों में दुर्दान्त अपराधियों के विरुद्ध कार्रवाई के दौरान 20 मार्च, 2017 से 10 अक्टूबर 2021 की अवधि में कुल 151 अपराधी मुठभेड़ में मारे गए एवं 3,473 घायल हुए. इन कार्रवाईयों में पुलिस बल के 13 जवानों ने जान गंवाई और 1,198 पुलिस कर्मी घायल हुए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


'UP में बेरोजगारी बढ़ी है' : अखिलेश यादव का योगी सरकार पर निशाना



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)