मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने फादर स्टेन स्वामी को दी श्रद्धांजलि, कहा- इस व्यवस्था के कई और भी हुए हैं शिकार

NIA जांच एजेंसी के द्वारा स्टेन स्वामी को गिरफ्तार करने के बाद उनकी मौत पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुए बृंदा करात ने कहा कि फादर के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं होने के बाद भी NIA ने फादर को गिरफ्तार किया जबकि वो मरीज थे.

मुख्यमंत्री हेमंत  सोरेन ने फादर स्टेन स्वामी को दी श्रद्धांजलि, कहा- इस व्यवस्था के कई और भी हुए हैं शिकार

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि स्टेन स्वामी के किये गए कार्यों को कभी भुला नहीं जा सकता.

नई दिल्ली:

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन नामकुम बागीचा में फादर स्टेन स्वामी की स्मृति में आयोजित सभा में शामिल होकर फादर स्टेन स्वामी को श्रद्धांजलि दी. वहीं सीपीआई कि पोलित ब्यूरो बृंदा करात के नेतृत्व में CPI ने फादर स्टेन स्वामी के मृत्यु के जांच को लेकर आज राजभवन के समक्ष धरना दिया. NIA जांच एजेंसी के द्वारा स्टेन स्वामी को गिरफ्तार करने के बाद उनकी मौत पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुए बृंदा करात ने कहा कि फादर के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं होने के बाद भी NIA ने फादर को गिरफ्तार किया जबकि वो मरीज थे. अब उनकी मौत के बाद इस एजेंसी को हत्यारी एजेंसी के रूप में जाना जाएगा.  मुख्यमंत्री भले श्रधांजलि दे रहे है मगर उन्हें इस मामले में ठोस कदम उठाना पड़ेगा.

रांची में कोरोना के कारण इस साल भी नहीं निकल सकेगी जगन्नाथ यात्रा : हेमंत सोरेन

उधर, धरने पर बैठे सामाजिक कार्यकर्ताओं ने कहा कि ये घटना निंदनीय है यहां फादर के खिलाफ साजिश के तहत हत्या कर दी गई है जिसकी जांच होनी ही चाहिए. क्योंकि एजेंसी के पास कोई सबूत नहीं रहने के बाद भी उन्हें कस्टडी में रखा गया और उनकी हत्या की गई.


झारखंड के किसानों के लिए खुशखबरी, हेमंत सोरेन सरकार ने माफ किया 980 करोड़ का कर्ज

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन नामकुम बागीचा में फादर स्टेन स्वामी की स्मृति में आयोजित सभा में शामिल होकर फादर स्टेन स्वामी को श्रद्धांजलि दी और कहा की स्टेन स्वामी के किये गए कार्यों को कभी भुला नहीं जा सकता. संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री केंद्र की सरकार को कोसते हुए कहा की इस व्यवस्था के शिकार सिर्फ फादर स्टेन स्वामी ही नहीं और भी कई लोग इसके शिकार हुए है.