CM की कुर्सी से बेदखल होने के बाद चंद्रबाबू नायडू की हवाई अड्डे पर ली गई तलाशी, नहीं मिला VIP वाहन

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और अब विपक्ष के नेता एन. चंद्रबाबू (Chandrababu Naidu) नायडू को शुक्रवार को विजयवाड़ा में गन्नवरम हवाई अड्डे पर तलाशी से गुजरना पड़ा. नायडू को विमान तक जाने के लिए वीआईपी सुविधा से भी वंचित कर दिया गया और आम यात्रियों के साथ बस में यात्रा करनी पड़ी.

CM की कुर्सी से बेदखल होने के बाद चंद्रबाबू नायडू की हवाई अड्डे पर ली गई तलाशी, नहीं मिला VIP वाहन

आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) को गन्नवरम हवाई अड्डे पर तलाशी से गुजरना पड़ा.

विजयवाड़ा :

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और अब विपक्ष के नेता एन. चंद्रबाबू नायडू  (N. Chandrababu Naidu) को शुक्रवार को विजयवाड़ा में गन्नवरम हवाई अड्डे पर तलाशी से गुजरना पड़ा. नायडू को विमान तक जाने के लिए वीआईपी सुविधा से भी वंचित कर दिया गया और आम यात्रियों के साथ बस में यात्रा करनी पड़ी. एक सुरक्षा गार्ड को सुरक्षा प्रवेश द्वार पर चंद्रबाबू नायडू की तलाशी लेते देखा गया. तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के प्रमुख को विमान तक वीआईपी वाहन से पहुंचने की अनुमति भी नहीं दी गई. इस घटना पर तेदेपा ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की, और आरोप लगाया गया कि भाजपा और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी (वाईएसआरसीपी) बदले की राजनीति कर रही है.  

 2019: गैर बीजेपी-गैर कांग्रेस दलों को एकजुट करने वाले एन चंद्रबाबू नायडू की सीएम की कुर्सी भी गई...

तेदेपा नेता व राज्य के पूर्व गृह मंत्री चिन्ना राजप्पा ने कहा कि अधिकारियों का रवैया न केवल अपमानजनक था, बल्कि उन्होंने नायडू की सुरक्षा के साथ भी समझौता किया क्योंकि उन्हें 'जेड प्लस' श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त है. उन्होंने कहा कि नायडू को कभी भी इस स्थिति का सामना नहीं करना पड़ा. उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार से नायडू की उचित सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग की. आपको बता दें कि पिछले दिनों हुए लोकसभा और राज्य विधानसभा चुनावों में चंद्रबाबू नायडू को करारी हार का सामना करना पड़ा था. 

करारी शिकस्त के बाद चंद्रबाबू नायडू ने टीडीपी कार्यकर्ताओं से की यह अपील...


आंध्रप्रदेश विधानसभा और लोकसभा चुनाव में हार का स्वाद चखने के बाद TDP अध्यक्ष एन. चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) ने कार्यकर्ताओं से हार की वजह से दिल छोटा नहीं करने की अपील की. उन्होंने पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने उन्हें निराश नहीं होने के लिए कहा. नायडू (Chandrababu Naidu)  ने कहा कि पार्टी उनके लिए परिवार से ज्यादा महत्वपूर्ण है और वह पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ खड़े रहेंगे. 69 वर्षीय नेता ने कहा कि वह गुंटूर में प्रत्येक दिन तेदेपा कार्यालय आएंगे और तीन घंटों के लिए पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं के लिए उपलब्ध रहेंगे. (इनपुट- IANS)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: आंध्र प्रदेश में वाईएसआर कांग्रेस को मिला बहुमत