भाजपा नेता तेजस्वी सूर्या हैदराबाद यूनिवर्सिटी में बिना इजाजत प्रवेश पर फंसे, मुकदमा दर्ज

तेजस्वी Greater Hyderabad Municipal Corporation के चुनाव में भाजपा के लिए सघन प्रचार कर रहे हैं.उन्होंने हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) और तेलंगाना राष्ट्र समिति के नेताओं के खिलाफ कई आपत्तिजनक बयान दिए हैं.

भाजपा नेता तेजस्वी सूर्या हैदराबाद यूनिवर्सिटी में बिना इजाजत प्रवेश पर फंसे, मुकदमा दर्ज

ग्रेटर हैदराबाद नगर निकाय चुनाव (GHMC Polls) में तेजस्वी जोर-शोर से प्रचार में जुटे.

हैदराबाद:

तेलंगाना (Telangana) के ग्रेटर हैदराबाद नगर निकाय चुनाव में प्रचार कर रहे भाजपा नेता तेजस्वी सूर्या (Tejaswi Surya) मुश्किल में घिर गए हैं. चुनाव प्रचार के दौरान हैदराबाद की उस्मानिया यूनिवर्सिटी में बिना इजाजत प्रवेश करने को लेकर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. तेलंगाना पुलिस ने उस्मानिया यूनिवर्सिटी (Osmania University) के रजिस्ट्रार की शिकायत पर यह कार्रवाई की. रजिस्ट्रार ने तेजस्वी सूर्या के खिलाफ विश्वविद्यालय परिसर में गैरकानूनी तरीके से प्रवेश को लेकर शिकायत की थी. तेलंगाना पुलिस प्रमुख मनोहर रेड्डी ने गुरुवार को यह जानकारी दी.

यह भी पढ़ें- तेजस्वी सूर्या के 'जिन्ना' वाले बयान के बाद बीजेपी MP बोले- ...तो हैदराबाद में करेंगे 'सर्जिकल स्ट्राइक'

तेजस्वी ग्रेटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कारपोरेशन (Greater Hyderabad Municipal Corporation) के चुनाव में भाजपा प्रत्याशियों के लिए सघन प्रचार कर रहे हैं. इस दौरान उन्होंने हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) और तेलंगाना राष्ट्र समिति के नेताओं के खिलाफ कई आपत्तिजनक बयान दिए हैं. बेंगलुरु से सांसद तेजस्वी ने मंगलवार को अपने समर्थकों के साथ यूनिवर्सिटी का दौरा किया था. उन्होंने कथित तौर पर कॉलेज के गेट पर लगे बैरीकेड और कंटीले तारों को हटा दिया था और जबरन आर्ट्स कॉलेज बिल्डिंग में छात्रों को संबोधित करने पहुंचे थे.


यह भी पढ़ें- असदुद्दीन ओवैसी को दिया गया हर वोट भारत के खिलाफ : भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


तेजस्वी ने आरोप लगाया था कि पुलिस ने राज्य के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के निर्देश पर उन्हें कैंपस में जाने से रोकने का प्रयास किया. तेजस्वी ने कहा कि हम तेलंगाना आंदोलन के दौरान मारे गए शहीदों को श्रद्धांजलि देने उस्मानिया यूनिवर्सिटी गए थे, लेकिन केसीआर ने गेट बंद करवा दिया.